गया में सीपीआईएमएल कार्यकर्ताओं ने दिया धरना, जिले को सुखाग्रस्त घोषित करने की मांग

गया में सीपीआईएमएल कार्यकर्ताओं ने दिया धरना, जिले को सुखाग्रस्त घोषित करने की मांग

GAYA : शहर के गांधी मैदान के समीप आज सीपीआईएमएल के कार्यकर्ताओं की ओर से जिले को सुखाड़ ग्रस्त घोषित करने सहित अन्य मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया. इस धरना में शामिल सैकड़ों की संख्या में महिलाओं और पुरुषों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. साथ ही उन्होंने राज्य सरकार पर किसानों की अनदेखी करने का आरोप लगाया. 

धरना में शामिल सीपीआईएमएल के जिला महामंत्री रामखेलावन दास ने कहा कि पूरा गया जिला सुखाड़ की चपेट में है. लेकिन नीतीश सरकार के द्वारा मात्र जिले के 10 प्रखंडों के कुछ पंचायतों को ही सुखाड़ घोषित किया गया हैं. उसमें भी 3 हजार रुपये के अनुदान की राशि कुछ लोगों को ही चिन्हित कर दिया जा रहा है. 

जबकि गया जिला का 24 प्रखंड सुखाड़ की चपेट में है. पूरे जिले में मात्र 15 से 17 प्रतिशत धान की रोपनी हुई है. वहीं बोधगया प्रखंड के प्रमोद दास गुप्ता नगर, कुरमावां, स्टालिन नगर सहित कई गांव में जो लोग 40 वर्षों से रह रहे हैं, उन्हें जबरन प्रशासन के द्वारा उनके मकानों को खाली कराया जा रहा है. हमारी मांग है कि जो लोग 40 वर्षों से रह रहे हैं. उन्हें बासगीत का पर्चा दिया जाए. साथ ही उनके मकानों को बना कर उन्हें स्थापित किया जाए.

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News