सीपीएम का दावा : महागठबंधन में शामिल रहता वामदल तो एनडीए का हो जाता सफाया

सीपीएम का दावा : महागठबंधन में शामिल रहता वामदल तो एनडीए का हो जाता सफाया

PATNA : भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी मार्क्सवादी ने दावा किया है कि महागठबंधन में वाम दल शामिल रहता तो पूरे देश में एनडीए का खाता तक नहीं खुलता। हालांकि फिर उन्होंने दावार किया है कि इस चुनाव में केन्द्र की मोदी सरकार का जाना तय है। 

पटना पहुंचे सीपीएम राष्ट्रीय महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि पीएम मोदी ने देश की जनता के साथ बड़ा धोखा किया है। उन्होंने रोजगार, किसानों की समस्या समेत कई अन्य बड़े-बड़े दावे कर सत्ता को हासिल किया था, लेकिन पिछले पांच साल के शासन काल में उन्होंने देश के बेरोजगार नौजवानों और किसानों के लिए कुछ भी नहीं किया। 

येचुरी ने कहा कि बढ़ती बेरोजगारी के लिए इनके पास कोई जवाब नहीं है। इनकी नीतियां के देश में बेरोजगारी में जबरदस्त वृद्धि हुई है। औद्योगिक मंदी स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है। किसान आत्म हत्याएं कर रहे हैं। तेल की कीमतों में बेतहासा इजाफा हुआ है। देश की आम जनता महंगाई से परेशान है। 

उन्होंने कहा कि झूठे सपने दिखाने वाली यह सरकार तो अपने फायदे के लिए सेना के नाम का इस्तेमाल करने से भी नहीं चूक रही है। वोट के लिए सेना के नाम इस्तेमाल किया जा रहा हैं।

राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि देश की जनता अब इनके नियत और झूठ को पूरी तरह से पहचान गई है। अब वह इनके झूठे वायदे और बहकावे में नहीं आने वाली है। इस चुनाव में इनका जाना तय है। 

वहीं महागठबंधन से वामदल को अलग रखने जाने को लेकर कहा कि वामपंथ को लेकर महागठबंधन बनता तो भाजपा और उनके सहयोगी का खाता तक नही खुलता। उन्होंने कहा कि हम केन्द्र में एक धर्मनिरपेक्ष सरकार को लाने की कोशिश करेंगे। 

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News