क्रिकेट के भगवान ने पाकिस्तानी धुरंधर को दी थी खुली चुनौती, कहा – “दम है तो मारकर दिखा”

क्रिकेट के भगवान ने पाकिस्तानी धुरंधर को दी थी खुली चुनौती, कहा –  “दम है तो मारकर दिखा”

स्पोर्ट्स डेस्क : वर्ल्ड क्रिकेट की दो धुरंधर टीम भारत और पाकिस्तान जब कभी एक-दूसरे के सामने होती हैं तो कई रोचक और दिलचस्प किस्से निकलकर बाहर आते हैं। कुछ ऐसा ही मजेदार किस्सा साल 2004 में पाकिस्तान दौरे पर गई भारतीय टीम के साथ हुआ था, जब मुल्तान टेस्ट के दौरान महानतम खिलाड़ी सचिन रमेश तेंदुलकर ने पाकिस्तान के विकेटकीपर-बल्लेबाज मोइन ख़ान को खुला चैलेंज दिया था।

दरअसल, साल 2004 में मुल्तान में खेले गये पहले टेस्ट मैच के दौरान जब मोइन ख़ान बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर आए तो मास्टर-ब्लास्टर ने गेंद अपने हाथों में ली और कप्तान से कहा कि मैं मोइन ख़ान को आउट करुंगा क्यों कि इससे पहले खेले गये प्रदर्शनी मैचों में इसकी गिल्लियां बिखेर चुका हूं लिहाजा मैं गेंदबाजी करुंगा। इसतरह मोइन ख़ान पर सचिन तेंदुलकर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाने लगे।

मोइन ख़ान को सचिन का खुला चैलेंज

पाकिस्तानी बल्लेबाज मोइन ख़ान ने भारतीय कप्तान और सचिन तेंदुलकर के बीच हो रही बातचीत सुन ली और फिर मुस्कुराकर सचिन की तरफ मुखातिब होते हुए कहा कि आज तो मैं तुझे छक्का मारुंगा। जवाब में सचिन ने कहा कि मैं गेंद को फ्लाइट करने का वादा करता हूं, दम है तो मारकर दिखा।

सचिन के सामने मोइन चारो खाने चित्त

पाकिस्तानी बल्लेबाज मोइन ख़ान को ओपेन चैलेंज देने के बाद सचिन ने टीम के साथियों से कहा कि वे अब्दुल रज्ज़ाक को एक रन लेने दें और मोइन को स्ट्राइक पर ले आएं। स्ट्राइक पर आने के बाद मोइन ख़ान सचिन की हर गेंद को पैड से रोकने लगे लिहाजा क्रिकेट के भगवान ने दिन की अंतिम गेंद को गुगली फेंकने का निर्णय लिया। गेंद ऑफ स्टंप पर टप्पा खाई और उतनी ही घूमी जितनी सचिन को उम्मीद थी। गेंद घुमने के बाद मोइन के पैरों के बीच से होती हुई लेग स्टंप की गिल्लियां बिखेर दी। इसतरह सचिन ने मोइन ख़ान पर एक बार फिर मनोवैज्ञानिक बढ़त बना ली।

मुल्तान टेस्ट के चौथे दिन भारतीय टीम के लिए यह एक अहम विकेट था। आखिरी दिन फिर से मैदान में उतरते हुए भारतीय टीम ने पाकिस्तान को सिर्फ आधे घंटे में समेट दिया।


साभार: प्रसून, पत्रकार

Find Us on Facebook

Trending News