14 दिनों की रिमांड अवधि खत्म, पूर्व मंत्री और ब्रजेश ठाकुर के रिश्तों को लेकर मधु ने उगले राज़

14 दिनों की रिमांड अवधि खत्म, पूर्व मंत्री और ब्रजेश ठाकुर के रिश्तों को लेकर मधु ने उगले राज़

MUZAFFARPUR : मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांड में सीबीआई की जांच जारी है। जांच के दौरान कई ऐसे अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई जो लंबे अर्से से स्थानीय पुलिस की आंखों में धूल झोंक रहे थे। ऐसी ही एक आरोपी थी साजिस्ता प्रवीण उर्फ मधु। मधु को सीबीआई बेसब्री से तलाश रही थी क्योंकि बालिका गृहकांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु ही है। मधु के भरोसे ही ब्रजेश अपने काले कारनामों को अंजाम देता था। आखिरकार सीबीआई की बढ़ती दबिश के बाद मधु कोर्ट पहुंची और अपने आपको सीबीआई के हवाले कर दिया। 

बालिका गृहकांड मामले में मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर की राजदार साजिस्ता प्रवीण उर्फ मधु और अश्वनी को सीबीआई ने 14 दिनों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद विशेष पॉक्सो कोर्ट में पेश किया। गुरुवार को कोर्ट के आदेश पर दोनों को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया गया। रिमांड पर लिए गए मधु और अश्विनी से पूछताछ में सीबीआई को कई महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। इसके आधार पर टीम आगे की कार्रवाई में जुटी है।

सीबीआई ने मधु को 14 दिनों की रिमांड अवधि पर लिया था। इस रिमांड अवधि के दौरान मधु से कई तरह के सवाल पूछे गये। सीबीआई सूत्रों की मानें तो मधु ने पूछताछ में कई बातों का खुलासा किया है। ब्रजेश ठाकुर के साथ पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के रिश्तों के संबंध में काफी कुछ उसने बताया है। बालिका गृह में आनेवाले कुछ वीआईपी के संबंध में भी उसने सीबीआई को बताया और नंबर भी उपलब्ध कराए।

हालांकि सीबीआई की ओर से अधिकारिक रूप से कुछ नहीं बताया जा रहा। बता दें कि मई में बालिका गृहकांड में ब्रजेश ठाकुर की गिरफ्तारी के बाद मधु भूमिगत हो गयी थी। पुलिस और सीबीआई की तमाम कोशिशों के बावजूद वह पकड़ में नहीं आयी थी। बाद में वो कोर्ट पहुंची थी और फोन कर सीबीआई अधिकारियों को बुलाया और खुद को उनके हवाले कर दिया।

Find Us on Facebook

Trending News