लोजपा की टिकट पर डुमरांव से चुनाव लड़ चुके उम्मीदवार को अपराधियों ने मारी गोली, जांच में जुटी पुलिस

लोजपा की टिकट पर डुमरांव से चुनाव लड़ चुके उम्मीदवार को अपराधियों ने मारी गोली, जांच में जुटी पुलिस

BUXAR : जिले में दिवाली की रात अपराधियों ने गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया है। देर रात दो अलग-अलग जगहों पर गोलीबारी की घटना हुई है। पहली घटना जहाँ नदांव में हुई है। वही दूसरी घटना लोजपा (रामविलास) पार्टी से डुमरांव विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी रहे अखिलेश सिंह पर देर रात अपराधियों ने उनके गांव खंडरिचा जाने के दौरान, नियाज़ीपुर डेरा और उनके गांव के बीच फायरिंग किया। फायरिंग में बचने के बाद उनकी गाड़ी रुकते ही अपराधियों ने लाठी डंडे से उनकी जमकर पिटाई की और मोबाइल भी तोड़ दिए। जहां वह घंटो बेहोश रहे। अचेता अवस्था में मृत समझकर हमलावर उन्हें धमकी देते हुए फरार हो गए। बताया जा रहा है की पांच की संख्या में आये अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है। 

सुरक्षा के लिए लगायी थी गुहार 

अखिलेश सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी स्थानीय सिकरौल थाना को दे दी है। उन्होंने 5 लोगों के खिलाफ लिखित मामला दर्ज कराया है। अखिलेश ने यह भी बताया कि उनकी प्रतिष्ठा को धूमिल करने के लिए इस तरह की घटना को अंजाम दिया गया है। इससे पहले भी सुरक्षा को लेकर राज्य मुख्यालय से लेकर जिला मुख्यालय तक अधिकारियों से गुहार लगा चुके हैं। इसको लेकर पूर्व में भी मैंने आवेदन दिया है। जिस पर अब तक कोई ठोस कदम प्रशासन के तरफ से नहीं उठाया गया। 


चुनावी रंजिश में चली गोली

वहीं जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के नदाव गांव में बृहस्पतिवार को ही देर रात ठाकुरबाडी में पूजा करने गए व्यक्ति को चुनावी रंजिश को लेकर गोली मार देने का मामला सामने आया है। बीच-बचाव करने पहुंचे दो लोगों पर भी  जानलेवा हमला किया गया है। घायल को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया, जहां सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए बनारस रेफर किया गया है। वहीं इलाज कराने आए मुकेश कुमार सिंह ने बताया मुखिया प्रत्याशी और अन्य लोगों ने मिलकर दो लोगों की पिटाई कर दी,जिसमें दोनों जख्मी हो गए। वहीं गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचकर सभी जख्मियों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां गोली लगे जख्मी व्यक्ति का प्राथमिक इलाज करके बनारस रेफर कर दिया गया। वहीं दो लोगों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। जख्मी युवक नदावगांव के रहने वाले रामनाथ सिंह का पुत्र जितेंद्र कुमार कुशवाहा, मुकेश कुशवाहा और धनंजय कुशवाहा हैं। बताते चलें कि जितेंद्र कुमार कुशवाहा अपने ही गांव के मुखिया प्रत्याशी के नामांकन के दौरान प्रस्तावक बना था। जिसको लेकर निवर्तमान मुखिया प्रत्याशी तेज बहादुर सिंह उर्फ मुन्ना सिंह ने जितेंद्र कुशवाहा को उसके खिलाफ दुसरे मुखिया प्रत्याशी को समर्थन नहीं करने को लेकर पहले भी धमकी दे रहा था। लेकिन जितेंद्र कुशवाहा अपने प्रत्याशी राम प्रवेश सिंह का समर्थन कर रहा था। जहां बीते 3 नवंबर को मतदान का कार्य किया गया। मुकेश ने बताया की गुरुवार की शाम दीपावली के दिन जितेंद्र कुमार कुशवाहा गांव में ठाकुरबाडी में दीया जलाने जा रहे थे। उसी वक्त पहले से घात लगाए मुखिया प्रत्याशी तेज बहादुर सिंह उर्फ मुन्ना सिंह और वीरू सिंह ने उस पर अचानक गोली चलाना शुरु कर दिया। जिसमें 1 गोली जितेन्द्र कुशवाहा के पैर में जा लगी और वह जख्मी हो गया।गोली की आवाज सुनकर ठाकुरबाडी में पूजा कर रहेमुकेश कुशवाहा और धनन्जय कुशवाहा मौके पर पहुंचे। जहां दोनों जितेंद्र कुशवाहा को बचाने लगे तब मुखिया प्रत्याशी तेज बहादुर सिंह उर्फ मुन्ना सिंह और वीरू सिंह ने दोनों की भी जमकर पिटाई कर दी। जिसमें दोनों जख्मी हो गए। जहां तीनों जख्मी को गांव के लोगों ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पुलिस कर रही है मामले की तफ्तीश

घटना की सूचना मिलते ही मुफस्सिल थाना की पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की तफ्तीश में जुट गई है। अब देखना है कि मुफस्सिल थाना की पुलिस इस मामले में क्या कार्रवाई करतीं हैं।

बक्सर से संजय कुमार उपाध्याय की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News