फिल्मी स्टाइल में आभूषण व्यवसाई के पुत्र से अपराधियों ने किया लूटने का प्रयास, चलाई गोलियां

फिल्मी स्टाइल में आभूषण व्यवसाई के पुत्र से अपराधियों ने किया लूटने का प्रयास, चलाई गोलियां

AURANGABAD :- औरंगाबाद जिले के दाउदनगर शहर स्थित हनुमान मंदिर के पीछे वार्ड नंबर 7 निवासी पशुपतिनाथ सिंह के पुत्र रोशन कुमार से पैसे व जेवरात लूटने का मामला सामने आया है। जहां आभूषण व्यवसाई के पुत्र से कुछ अज्ञात अपराधियों ने गहने लूटने की कोशिश की। भागने के क्रम में उसपर गोली भी चलाई लेकिन वह जान बचाकर बाल बाल निकल पड़ा। मामले की सूचना दाउदनगर अध्यक्ष गुफरान अली को दी गई है। दाउदनगर थाना अध्यक्ष गुफरान अली ने इस मामले पर गंभीरता दिखाते हुए बताया कि जल्द ही मामले का पटाक्षेप कर दिया जाएगा।

रोड पर महिला को लेटाकर रुकवाई गाड़ी

इस घटना को लेकर कान्हा ज्वेलर्स के संचालक पशुपतिनाथ सिंह ने बताया कि करीब 10 :30 बजे उनका पुत्र रोशन कुमार दुकान से पैसा लेकर आभूषण लाने के लिए दाउदनगर से डिहरी निकला। इसी दौरान बारुण थाना क्षेत्र के धनौती पुल के पास  अज्ञात अपराधियों द्वारा गाड़ी को रोकवा कर पैसा और आभूषण लूटने का प्रयास किया गया। रोशन कुमार ने बताया कि दाऊदनगर से डिहरी जाने के क्रम में धनौती पुल के पास नहर रोड़ा में पहले से एक महिला रोड पर लेटी हुई थी। महिला को रोड पर लेटे देखकर रोशन कुमार ने बाइक को धीमा कर दिया। जैसे ही रोशन कुमार ने बाइक को धीमे किया तो तीन से चार की संख्या हथियार लेकर पहुंच गए और बोले कि रूको-रूको  लेकिन रोशन कुमार ने अपना बहादुरी दिखाते हुए अपनी बाइक को पुनः पीछे मुड़कर भागने लगा। 

चलाने लगे गोली

भागने के क्रम में पीछे से एक अपराधी ने गोली चला दी।गोली बगल से निकल गई और कान्हा ज्वेलर्स आभूषण व्यवसाई का बेटा रोशन कुमार बाल-बाल बच गया और तेजी से वहां से भागकर पिपरा गांव में जाकर जान बचाई। कन्हा ज्वेलर्स दाउदनगर शहर के जगन मोड़ के पास संचालित किया जाता है। आभूषण व्यवसाई पशुपतिनाथ सिंह ने बताया कि इस घटना से सभी परिवार के लोग दहशत में हैं। एवं पूरे आभूषण व्यवसाई लोग दहशत में हैं। इसकी सूचना दाउदनगर अध्यक्ष गुफरान अली को दी गई है। दाउदनगर थाना अध्यक्ष गुफरान अली ने इस मामले पर गंभीरता दिखाते हुए बताया कि जल्द ही मामले का पटाक्षेप कर दिया जाएगा ।

पहले से थी प्लानिंग

 रोशन कुमार पैसा लेकर आभूषण लाने के लिए डिहरी जा रहा था। पहले से ही इसे रेकी किया जा रहा था और सुनसान जगह पर प्लानिंग की गई थी। यह घटना आग की तरह बाजार में फैल गई। इस घटना को अंजाम देने के लिए हथियार से लैस एक महिला समेत चार से पांच की संख्या में थे। कान्हा ज्वेलर्स आभूषण व्यवसाई पशुपति नाथ सिंह ने प्रशासन से सुरक्षा का गुहार लगाया और इस तरह की घटना पर अंकुश लगाने की बात कही है। पशुपति सिंह ने कहा कि इस तरह की घटना किसी भी व्यवसाई के साथ हो सकती है। इसलिए प्रशासन का सहयोग बहुत जरूरी है। प्रशासन ने आश्वासन दिया कि जल्द ही इस घटना का उद्भेदन किया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News