पटना में सीआरपीएफ जवान की बेटी का अपहरण, मां ने पुलिस थाने में दर्ज करवाई शिकायत

पटना में सीआरपीएफ जवान की बेटी का अपहरण, मां ने पुलिस थाने में दर्ज करवाई शिकायत

पटना. सीआरपीएफ जवान की बेटी को कोचिंग जाने के दौरान अगवा करने का मामला सामने आया है। मामला पटना के रूपसपुर थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। सीआरपीएफ की विधवा पत्नी ने रूपसपुर थाना में अपनी 15 वर्षीय नाबालिग बेटी को 9 मई कोअगवा करने की शिकायत दी।

पीड़िता की मां ने कहा कि सीआरपीएफ जवान के पति के गुजर जाने के सदमे में उसकी तबियत काफी ख़राब रहने लगी। इस दौरान रूपसपुर इलाके के घर से वो अपने मायके जककनपुर इलाके में चली गई, जहाँ उसके पड़ोस में रहने वाले युवक जैकी उर्फ़ आशुतोष से पीड़िता की जान पहचान हुई। पीड़िता मां ने बताया कि उसकी तबियत खराब रहने का फायदा जैकी उर्फ़ आशुतोष ने उठाया और नाबालिग 15 वर्षीय बेटी को अपने प्रेमजाल में फंसाकर उसकी अश्लील तस्वीर खींचकर उसे और उसकी मां से रुवाये ऐंठने शुरू कर दिया।

पीड़िता की मां ने बताया की नाबालिग ने बदनामी के डर से उसे 10 लाख रुपये जैकी उर्फ़ आशुतोष के अकाउंट में किस्तों में ट्रांसफर कर दी। इसकी भनक पड़ते ही पीड़ित मां ने अपनी बेटी को डांटकर पूछताछ की। इसके बाद नाबालिग ने सारी कहानी अपनी मां को बताई। आरोपी जैकी उर्फ़ आशुतोष यहां तक भी चुप नहीं बैठा और पीड़िता की बेटी का अश्लील फोटो का वायरल करने की धमकी देकर परेशान करता रहा। साथ ही रुपये की डिमांड भी करता रहा। इसके बाद बीते 9 मई को अचानक कोचिंग के लिए निकली नाबालिक घर से मोटी रकम लेकर निकली और गायब हो गई है।

दरअसल इस पूरे मामले में पीड़िता को जैकी पर शक है। इसके बाद महिला ने मामले का रूपसपुर थाना में अपहरण का मामला दर्ज करवाया है। मामले के बारे में जानकारी देते हुए रूपसपुर थानाध्यक्ष मधु सुदन कुमार ने बताया कि मामला अपहरण का दर्ज किया गया है। मामले का अनुशंधान जारी है। प्रथम दृष्टया मामल प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ है। बच्ची नाबालिग है। मामले की गंभीरता को देखते हुए आगे की करवाई जारी है।

Find Us on Facebook

Trending News