CYCLONE YAAS: ताउते के बाद ‘यास’ के लिए खास तैयारी, प्रधानमंत्री ने समीक्षा बैठक में जारी किए दिशा-निर्देश

CYCLONE YAAS: ताउते के बाद ‘यास’ के लिए खास तैयारी, प्रधानमंत्री ने समीक्षा बैठक में जारी किए दिशा-निर्देश

DESK: ताउते तूफान का असर देश में समाप्त होते ही एक और चक्रवात बंगाल की खाड़ी में बनना शुरू हो गया है. इस चक्रवात को ‘यास’ नाम दिया गया है. देश के पूर्वी तटीय क्षेत्रों पर यास तूफान का खतरा मंडरा रहा है. मौसम विभाग ने बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र को चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना जताई है. मौसम विभाग का अनुमान है कि 26 मई को पश्चिम बंगाल और उड़ीसा तट से यास तूफान टकरा सकता है. ताउते के प्रभाव को देखते हुए इस तूफान के लिए तैयारी होनी शुरू हो गई है. 

तूफान से निपटने की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अफसरों और मंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की. इसमें पीएम मोदी ने निर्देश दिए कि संभावित खतरे वाले स्‍थानों से लोगों को समय पर सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाया जाए. बैठक में गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे. इस समीक्षा बैठक के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से बताया गया कि NDRF ने 46 टीमों को पहले से तैनात किया है. चक्रवात यास से निपटने के लिए आज 13 टीमों को एयरलिफ्ट किया जा रहा है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री कार्यलय नेचक्रवात यास से निपटने की तैयारियों पर कहा कि भारतीय तटरक्षक बल, नौसेना ने राहत, खोज, बचाव कार्यों के लिए जहाजों, हेलीकॉप्टरों को तैनात किया है. पीएम मोदी ने बैठक के दौरान अफसरों को निर्देश दिए कि बिजली और टेलीफोन नेटवर्क की कटौती के समय को कम किया जाए. पीएम मोदी ने इस दौरान अफसरों से तूफान के समय लोगों को क्‍या करना है और क्‍या नहीं करना है, इसके दिशा-निर्देश तैयार करने को भी कहा है. उन्‍होंने कहा कि ये दिशानिर्देश स्‍थानीय भाषा में भी लोगों के लिए जारी किए जाएं.

वहीं, गृह मंत्रालय भी 24 घंटे स्थिति की समीक्षा कर रहा है. मंत्रालय लगातार संबंधित राज्‍य सरकारों और केंद्रीय एजेंसियों से संपर्क में हैं. गृह मंत्रालय ने सभी राज्‍यों में एसडीआरएफ को भी एडवांस में इंस्‍टॉलमेंट जारी कर दी गई है. इसके साथ ही पेट्रोलियम मंत्रालय समुद्र में मौजूद सभी तेल संबंधी जगहों की देखरेख और उनकी सुरक्षा के लिए तैयारी कर रहा है.


Find Us on Facebook

Trending News