CYCLONE YAS: झारखंड की तरफ बढ़ा चक्रवात, 10 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट, बंगाल-उड़ीसा में दिखी तबाही

CYCLONE YAS: झारखंड की तरफ बढ़ा चक्रवात, 10 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट, बंगाल-उड़ीसा में दिखी तबाही

DESK: चक्रवाती तूफान यास ने बंगाल और उड़ीसा में तबाही के मंजर पीछे छोड़े हैं. दोनों राज्यों में करीब 20 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं. यहां तूफान की वजह से बुधवार को 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली. बारिश और घरों की टूटने की वजह से 4 लोगों की मौत हो गई. इनमें तीन ओडिशा और एक बंगाल के हैं.

चक्रवाती तूफान के झारखंड में दस्तक देने के दूसरे दिन गुरुवार को गढ़वा और डालटनगंज में भारी बारिश के आसार हैं. इसको लेकर मौसम केंद्र की ओर से रेड अलर्ट जारी किया गया है. गुरुवार को राज्य के रांची, खूंटी, गुमला, लातेहार, चतरा में भारी बारिश की संभावना है. गुरुवार को सुबह साढ़े सात बजे तूफान डिप्रेशन के तौर पर खूंटी में मौजूद रहेगा. दुमका, गोड्डा, जामताड़ा, राजमहल से लेकर देवघर, कोडरमा, हजारीबाग सहित अन्य जिलों में हल्की बारिश के साथ तेज़ हवा चलने की संभावना है. राज्य के दस जिलों के लिए गुरुवार को आरेंज अलर्ट जारी हुआ है. पूर्वी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, गुमला, लोहरदगा, लातेहार, रांची, चतरा, रामगढ़, रांची और खूंटी में बहुत भारी बारिश की संभावना है. वहीं इस दौरान 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने और वज्रपात की आशंका है.

वहीं, पटना सहित बिहार के 26 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट है. मौसम विभाग का अनुमान है कि तूफान की वजह से बिहार में माध्यम बारिश ही होगी. इससे ज्यादा नुकसान की आशंका नहीं है. हालांकि, राज्य सरकार ने एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की 22 टीमें को विभिन्न जिलों में तैनात कर दिया है. बता दें, चक्रवाती तूफान का असर विमानों के परिचालन पर भी हुआ है. बुधवार को पटना एयरपोर्ट से 20 जोड़ी विमानों के परिचालन को रद्द किया गया है. वहीं, पूर्व मध्य रेल ने 15 स्पेशल ट्रेनों को रद्द किया है.बिहार में यास तूफान के खतरे को देखते हुए पटना जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है. 0612-2219810, 0612-2219234, 0612-2219199, 0612-2219911, 0612-2219915.

Find Us on Facebook

Trending News