नवादा एसपी की दादागिरी, वर्दी में ही पांच पुलिस अफसरों को उठाकर हाजत में ठूंस दिया, वीडियो सामने आने के बाद मचा बवाल

नवादा एसपी की दादागिरी, वर्दी में ही पांच पुलिस अफसरों को उठाकर हाजत में ठूंस दिया, वीडियो सामने आने के बाद मचा बवाल

NAWADA : जिले में पांच पुलिस अफसरों को थाना हाजत में बंद कार देने के बाद बवाल मच गया है। इस घटना के बाद पुलिस महकमा में खलबली मच गया है। जिला से लेकर राज्य स्तर पर पुलिस एसोसियेशन उठ खड़ा हुआ है। मामला नवादा नगर थाना में तैनात पांच पुलिस अफसरों को थाना हाजत में बंद करने का है। लपेटे में नवादा के पुलिस अधीक्षक डॉ गौरव मंगला हैं। 


इनपर आरोप लगा है कि 8 सितंबर की रात्रि उन्होंने नगर थाना के 2 दारोगा और 3 जमादार एसआई शत्रुधन पासवान, एसआई रामरेखा सिंह, एएसआई संतोष पासवान, एएसआई संजय सिंह और एएसआई रामेश्वर उरांव कुल 5 अफसरों को थाना हाजत में बंद कर दिया। हालांकि एसपी डॉ गौरव मंगला ने आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया हैं। नगर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर विजय कुमार सिंह ने भी इस ऐसी किसी घटना से इंकार किया है। 

जबकि इस मामले का विडियो फुटेज भी सामने आया है। जिसमें पाँचों पुलिस अफसरों को हाजत में बंद किया गया है। हालाँकि NEWS4NATION इस विडियो की पुष्टि नहीं करता है। हालाँकि मामला 8 सितंबर की रात्रि करीब 9 बजे की बताई जा रही है। जब एसपी नगर थाना पहुंचे थे। कांडों का रिव्यू करने के दौरान कुछ अफसरों की लापरवाही सामने आई। 

इस बीच मामला ने तब तुल पकड़ लिया। जब बिहार पुलिस एसोसियेशन के अध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह तक यह बात पहुंची। उन्होंने एसपी से बात करने का प्रयास किया तो कॉल रिसीव नहीं किया गया। इसके बाद 10 सितंबर को उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर पूरे मामले की जांच की मांग कर दी है। नगर थाना का सीसीटीवी फुटेज खंगालने और विधि सम्मत कार्रवाई की मांग की गई है। उन्होंने एसपी की कार्रवाई को कनीय पुलिस अफसरों का मनोबल तोड़ने वाला बताते हुए मामले की निष्पक्ष और न्यायिक जांच करा आईपीसी की धारा में एफआईआर करने की मांग की है। 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News