DDC-BDO बनते हैं विकास कार्यों में बाधा, पंचायती राज से अब होगा सही विकास : सच्चिदानंद राय

DDC-BDO बनते हैं विकास कार्यों में बाधा, पंचायती राज से अब होगा सही विकास : सच्चिदानंद राय

CHHAPRA : पंचायत के विकास में बीडीओ व डीडीसी के अधिक हस्तक्षेप सबसे बड़ी बाधा हैं। यह मानना है सारण के स्थानीय निकाय के निर्वतमान सांसद ई. सच्चिदानंद राय का। उक्त बातें उन्होंने बनियापुर के कमता, भट्ठी, इसुआपुर के निपनिया पंचायत में नए पंचायत प्रतिनिधियों के सम्मानित करने के दौरान कही। 

एमएलसी सच्चिदानंद राय ने कहा कि अब बीडीओ, डीडीसी राज से नहीं, बल्कि पंचायतीराज से पंचायतों का विकास होगा। उन्होंने कहा कि अब पंचायतों के विकास कार्य की मॉनिटरिंग बीडीओ-डीडीसी नहीं बल्कि पंचायती राज के अधिकारी करेंगे। उन्होंने बताया कि पूरी पंचायतीराज व्यवस्था बदल जाएगी। 

उन्होंने बताया कि बीडीयो और डीडीसी का हस्तक्षेप से विकास कार्यों पर बुरा असर पड़ रहा है। पंचायतीराज ने इस व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया है। अब जिला व प्रखंड स्तर पर पंचायतीराज पदाधिकारी की नियुक्ति की जाएगी। उन्होंने बताया कि नई व्यवस्था में पंचायत का विकास अब पंचायत सरकार भवन से संचालित होगा।

ऐसी होगी व्यवस्था

सच्चिदानंद राय ने बताया कि गांवों में पंचायत के घर-घर नल से जल पहुंचना और प्रत्येक घर से कचर प्रबंधन का कार्य वार्ड सदस्य करेंगे। इसके लिए सफाईकर्मी की नियुक्ति की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक वार्ड में 10 सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी। साथ ही लाइट पोस्ट पर कैमरा भी लगाया जाएगा। जिससे गांव की हर गतिविधि पर सरकार नजर रख सकेगी। 

जिम्मेदारी बढ़ेगी तो करेंगे बेहतर कार्य

वार्ड सदस्यों को सम्मानित करने पहुंचे ई. सच्चिदानंद राय ने कहा कि नई व्यवस्था में वार्ड सदस्यों की जिम्मेदारी बढ़ जाएगी। इससे उन्हें रोजगार तो मिलेगा ही, साथ ही वह अपने वार्ड के लिए बेहतर कार्य भी कर सकेंगे। श्री राय ने कहा कि पंचायतों को हाइटेक बनाने में पंचायत प्रतिनिधियों की अहम भूमिका होती है। 

Find Us on Facebook

Trending News