पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने की मांग छात्राओं की सुरक्षा को मुख्य मुद्दा बनाएंगे : आइसा

पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने की मांग छात्राओं की सुरक्षा को मुख्य मुद्दा बनाएंगे : आइसा

PATNA : दो साल बाद पटना विवि में छात्र संघ के चुनाव होने जा रहे हैं। ऐसे में न सिर्फ छात्रों में बल्कि छात्र संगठनों मे भी जबरदस्त उत्साह नजर आ रहा है। ज्यादातर छात्र संगठन चुनाव की घोषणा होने के बाद से ही छात्रों के साथ अपने संपर्क साधने में लग गई है। साथ ही उनसे कई तरह के वादे भी शुरू हो गए हैं। छात्र संगठन आइसा भी चुनाव को लेकर बेहद सक्रिय नजर आ रही है। 

पटना विश्वविद्यालय के पटना विमेंस कॉलेज,मगध महिला कॉलेज, पटना कॉलेज, पटना साइंस कॉलेज में आइसा ने सदस्यता अभियान चलाया एवं छात्र संघ चुनाव को ले कर सघन कैंपेन करते नजर आ रहे है। आइसा की ओर  से  शिक्षा नीति 2020 लागू होने के कारण हुए फीस वृद्धि के खिलाफ छात्रों के कैंपेन किया। कैंपस में GSCASH ( जेंडर सेंसीटाईजेसन सेल अगेंस्ट सेक्सुअल हैरसमेंट ) को स्थापित करने को लेकर संघर्षरत है। खेल कूद के माहौल को कैंपस में बेहतर बनाने पर भी छात्रों को अपनी ओर आकर्षित करते नजर आए है।

आइसा छात्र संघ चुनाव नई शिक्षा नीति 2020, पुस्तकालयों की स्थिति बेहतर करने, साइबर लाइब्रेरी को चालू करने  की मुद्दे पर चुनाव लड़ेगा। यह चुनाव देश की राजनीति के लिहाज से भी महत्वपूर्ण है। कैंपस में फासीवादी और महिला विरोधी ताकतों को शिकस्त दिया जाएगा। विगत वर्षों से छात्रसंगठन आइसा पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने की लड़ाई को लड़ रहा है। छात्रसंघ चुनाव में इस मुद्दे पर आइसा का लड़ाई प्रमुख है !

Find Us on Facebook

Trending News