डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने विपक्ष से मांगा जवाब, पीएम पैकेज पर सवाल पूछने वाले बताएं 5,700 करोड़ के राजीव पैकेज का क्या हुआ ?

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने विपक्ष से मांगा जवाब, पीएम पैकेज पर सवाल पूछने वाले बताएं 5,700 करोड़ के राजीव पैकेज का क्या हुआ ?

PATNA :  बिहार विधानसभा चुनाव से पहले केन्द्र से बिहार को सौगात मिलने का सिलसिला जारी है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एकबार फिर बिहार को करीब 14 हजार करोड़ रुपये की सौगात दी। बिहार की इन योजनाओं में 14,000 करोड़ रुपये की 9 राजमार्ग परियोजना और 45,945 गांवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट सेवाओं से जोड़ने वाला 'घर तक फाइबर' कार्यक्रम शामिल है। 

इधर पीएम के इस सौगात के बहाने बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने विपक्ष पर जोरदार हमला बोला है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 9 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं के शिलान्यास के मौके पर आयोजित वर्चुअल समारोह को सम्बोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि पीएम पैकेज पर सवाल उठाने वाले बताएं कि 1989 में लोकसभा चुनाव के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी द्वारा घोषित 5,700 करोड़ के पैकेज का क्या हुआ? चुनाव हारने के बाद कांग्रेस के लोग राजीव गांधी पैकेज को भूल गए, मगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने पैकेज को भूले नहीं, बल्कि उससे हर सेक्टर में काम हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि 53 वर्षों में गंगा नदी पर केवल 4 पुल बना जबकि एनडीए शासन में गंगा पर आने वाले दिनों में 17 पुल होंगे और राज्य की जनता को हर 25 किमी पर एक पुल मिलेगा। इसी प्रकार कांग्रेस-राजद के 53 साल के शासन में कोसी पर मात्र एक बी पी मंडल पुल का निर्माण हुआ था, जबकि एनडीए के कार्यकाल में 6 पुल बनाए जा रहे हैं।

सुशील मोदी ने कहा कि 4 साल पहले घोषित पीएम पैकेज का सर्वाधिक 54,700 करोड़ सड़क प्रक्षेत्र की चयनित 75 योजनाओं पर खर्च किया जा रहा हैं, जिनमें 13 पूर्ण हो चुकी है और 38 प्रगति पर है। बिहार की सभी पंचायतों में आॅप्टीकल फाइबर नेटवर्क पहुंच चुका है और आने वाले दिनों में 45 हजार से ज्यादा गांवों में इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार के मिल कर काम करने का परिणाम है कि आज बिहार के हर घर में शौचालय, बिजली, पाइप से पानी की आपूर्ति, हर गरीब को रसोई गैस का कनेक्शन, हर 100 से ज्यादा की आबादी को पक्की सड़क, हर गांव में पक्की नली-गली, गरीब को पक्का मकान, 5 लाख तक की स्वास्थ्य सुविधा आदि दी जा रही हैं।

Find Us on Facebook

Trending News