शोभा की वस्तु बनी देशरत्न की मूर्ति, पुण्यतिथि के बावजूद किसी पार्टी के नेता ने नहीं किया माल्यार्पण

शोभा की वस्तु बनी देशरत्न की मूर्ति, पुण्यतिथि के बावजूद किसी पार्टी के नेता ने नहीं किया माल्यार्पण

NAWADA : देश के बड़े और महान नेताओं के नाम पर जमकर राजनीति की जाती है. वहीँ उनके बताये रास्ते और मार्गदर्शन पर चलने के दावे किये जाते हैं. लेकिन उनकी जयंती और पुण्यतिथि के मौके पर उन्हें याद करना भी मुनासिब नहीं माना जाता है. ऐसा ही मामला बिहार के नवादा जिले में सामने आया है. दरअसल आज देश के प्रथम राष्ट्रपति और देशरत्न के रूप में मशहूर राजेंद्र प्रसाद की पुण्यतिथि है. 

लेकिन उनकी मूर्ति पर किसी पार्टी के नेताओं ने माल्यार्पण करना मुनासिब नहीं समझा. दरअसल नवादा के राजेंद्र मेमोरियल वूमंस कॉलेज परिसर में भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की एकमात्र मूर्ति स्थापित है. 

लेकिन किसी ने यहां तक नहीं समझा कि आज हमारे देश के प्रथम राष्ट्रपति है जिन की मूर्ति पर माल्यार्पण किया जाए. इसमें कांग्रेस, राजद, बीजेपी और रालोसपा के नेता शामिल हैं. जो राजेंद्र प्रसाद को अपना आदर्शं मानते हैं. लेकिन आज देश के प्रथम राष्ट्रपति को ही भूल गए. 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News