देवर और भाभी ने थाने में रचाई शादी, पुलिसकर्मियों के पैर छूकर लिए आशीर्वाद

देवर और भाभी ने थाने में रचाई शादी, पुलिसकर्मियों के पैर छूकर लिए आशीर्वाद

SITAMARHI : बिहार के सीतामढ़ी में एक देवर ने अपने भाभी के साथ थाने में ही शादी रचाई ली है. दरअसल यह पूरा मामला सीतामढ़ी के महिला थाना का है. जहाँ समाज के तानाशाही रवैये के खिलाफ थाने पहुँची परसौनी के मदनपुर निवासी रंजीता की उसी के देवर से शादी कर दी गई. शादी से जहां वर्षो बाद रंजीता खुश दिखी तो वही बहु को एक बार फिर सुहागिन देख ससुराल वाले भी फूले न समा रहे थे. 

देवर का नाम संतोष सहनी है जो अपने भाई की मौत के बाद अपनी भाभी से ही प्यार कर बैठा और उससे शादी की इच्छा भी जताई. संतोष सहनी की भाभी रंजीता का एक बच्चा भी है, जो उसके पहले पति का है. रंजीता और स्व० दिनेश सहनी की शादी 5 वर्ष पूर्व हुई थी. जिसके 3 साल बाद ही दिनेश की मौत बिजली का करंट लगने से हो गई थी. तब से रंजीता अकेले रहने लगी, धीरे धीरे उसे अपने ही देवर से प्यार हो गया. 

दोनों का प्यार इतना परवान चढ़ा की इसकी खबर रंजीता के ससुराल वाले समेत गाँव समाज के लोगो को भी लग गई. जिस कारण बीच मे रंजीता का देवर समाज के दवाब के कारण उससे शादी करने से मना करने लगा. इसके बाद रंजीता महिला थाने पहुँची. 

जहां समाज और पुलिस दोनों परिवारों की सहमति से देवर और भाभी की शादी कराई गई. शादी के बाद दोनों देवर और भाभी ने पति पत्नी बनने के बाद मौजूद महिला पुलिसकर्मी के पैर छूकर आशीर्वाद लिए. 

सीतामढ़ी से आदित्यानंद आर्य की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News