कोरोना संकट में डॉक्टरों से मारपीट और हॉस्पिटल में तोड़फोड़ की तो खैर नहीं, DGP-गृह सचिव ने जारी किया ज्वाइंट ऑर्डर

कोरोना संकट में डॉक्टरों से मारपीट और हॉस्पिटल में तोड़फोड़ की तो खैर नहीं, DGP-गृह सचिव ने जारी किया ज्वाइंट ऑर्डर

PATNA: कोरोना संकट में राजधानी पटना समेत कई जिलों से डॉक्टरों पर हमले की खबर आ रही है. इसके बाद गृह विभाग ने सभी डीएम और एसपी को आदेश जारी किया है.डीजीपी और गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव के संयुक्त आदेश में कहा गया है कि कोरोना का दूसरा लहर का व्यापक प्रभाव है. आम लोगों में भय व्याप्त है। ऐसे में चिकित्सकों एवं अस्पताल प्रबंधन पर अनुचित दबाव डालने तथा दुर्व्यवहार एवं मारपीट की घटनाएं सामने आ सकती हैं. जिससे विधि व्यवस्था की गंभीर समस्या होने की संभावना है.

डीजीपी-गृह सचिव की तरफ से आदेश जारी

गृह सचिव और डीजीपी ने कहा है कि सभी डीएम और एसपी अपने जिले में इलाज हेतु चिन्हित अस्पतालों, कोविड-19 सेंटर के आसपास विधि व्यवस्था का समुचित प्रबंध करेंगे. साथ ही वहां पर दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति करेंगे. उन क्षेत्रों में जहां ऐसे अस्पताल हैं पेट्रोलिंग की व्यवस्था सुदृढ़ की जाएगी और गश्त की संख्या में वृद्धि की जाए. सभी जिलों के एसपी स्थिति का आकलन करें और संवेदनशील क्षेत्रों मैं स्टैटिक पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति करें. जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करेगा कि कोविड-19 के इलाज में लगे सभी चिकित्सक, अस्पताल एवं अन्य संस्थानों को विधि व्यवस्था में शामिल पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के मोबाइल नंबर उपलब्ध कराएं. मरीजों के परिजन या अन्य व्यक्ति इलाज में बाधा पहुंचाए तो तत्काल पुलिस को सूचना दे सकें.

असमाजिक तत्वों पर करें सख्त कार्रवाई

 यदि कोई व्यक्ति या समूह चिकित्सक, चिकित्सा कर्मी और अस्पताल प्रबंधन को इलाज के दौरान कोई हानि या क्षति पहुंचाता है तो उनके विरुद्ध बिहार चिकित्सा सेवा संस्थान और व्यक्ति सुरक्षा अधिनियम 2011 तथा आईपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई करें. सभी डीएम एवं एसपी प्रमुख चिकित्सकों एवं प्रतिष्ठित अस्पताल के प्रबंधन के साथ बैठक करें. जिला प्रशासन ऑक्सीजन, कोविड-19 में सहायक दवाओं एवं अन्य वस्तुओं की कालाबाजारी रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाएं.

Find Us on Facebook

Trending News