बिहार में DGP की भी हो सकती है हत्या, मीडिया के सवाल पर भड़के बिहार पुलिस के मुखिया

बिहार में DGP की भी हो सकती है हत्या, मीडिया के सवाल पर भड़के बिहार पुलिस के मुखिया

PATNA : छपरा में शहीद दरोगा और कांस्टेबल को श्रद्धांजलि देने पहुंचे डीजीपी गुप्तेश्वर पांडये उस वक्त भड़क गए जब मीडिया ने उनसे सवाल करना शुरु किया। पत्रकारों के सवाल कि अपराधी पूरी तरह से बेलगाम हो गये है पर डीजीपी भड़क गए और गुस्से में उन्‍होंने यहां तक कह डाला किअपराधी किसी की भी हत्या कर सकते हैं, चाहे वह डीजीपी ही क्यों ना हों। 

पांडेय ने कहा कि  पुराने दिन को याद कर लीजिए कि बिहार में किस तरह के नरसंहार होते थे।  इससे पहले उन्होंने शहीद जवानों के परिजन की उस मांग को खारिज कर दिया जिसमें सीबीआई जांच की बात कही गई थी। 
 
 डीजीपी ने पुलिसकर्मियों की शहादत को अपराधियों की कायराना हरकत बताया। उन्होंने कहा कि इस मामले में हर एंगल से जांच होगी और दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। 

वहीं जब इस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश करने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंनेकहा कि बिहार पुलिस इस मामले की जांच करने में खुद सक्षम है। 

बता दें कि मंगलवार को छपरा के मढ़ौरा में पुलिस और अपराधियों के बीच मुठभेड में दो पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं। जबकि दो अन्य पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।घायलों को गंभीर स्थिति में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।अपराधियों का दुस्साहस देखिए की दारोगा का एके-47 भी लूट कर फरार हो गए।

अपराधियों के हमले में एक दारोगा और सिपाही की मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार मुठभेड में  दारोगा मिथिलेश कुमार और सिपाही फारूख शहीद हो गए हैं। जबकि एक अन्य साथी हवालदार घायल है जिसे इलाज के लिए पटना रेफर किया गया है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि  अपराधियों ने पहले  ताबडतोड़ फायरिंग की उसके बाद पुलिस की गाड़ी से एक एके-47 और एक पिस्टल को लूटकर फरार भी हो गए हैं।

पुलिस मुख्यालय के एडीजी ने बताया कि छपरा जिले के मढ़ौरा में पुलिस टीम पर स्कार्पियो सवार अपराधियों द्वारा फायरिंग की गई। जिसमे एक अवर निरीक्षक मिथलेश कुमार एवं एक सिपाही फारूख शहीद हुए हैं। जबकि एक सिपाही घायल हुए हैं।उन्होंने बताया कि यह टीम कुछ दिन पूर्व गड़खा थानान्तर्गत घटित गृह डकैती के कांड के उद्भेदन हेतु गठित SIT का हिस्सा थी और उसी सिलसिले में छापामारी कर मिले लीड्स के आधार पर अग्रिम कार्यवाही हेतु जा रही थी।

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News