डीजीपी ने देर रात तक पुलिस अधिकारियों के साथ की बैठक, अपराध पर लगाम लगाने को दिए टास्क और मंत्र

 डीजीपी ने देर रात तक पुलिस अधिकारियों के साथ की बैठक, अपराध पर लगाम लगाने को दिए टास्क और मंत्र

PATNA : डीजीपी ने राजधानी में बढ़ते क्राइम पर अंकुश लगाने को लेकर बीती मंगलवार की देर रात तक डीजीपी ने एसएसपी कार्यालय में पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में डीजीपी के साथ आईजी जोनल सुनील कुमार, डीआईजी सेंट्रल रेंज राजेश कुमार, एसएसपी गरिमा मलिक, एसपी सिटी समेत कई थानेदार मौजूद थे।

इस दौरान डीजीपी राजधानी में बढ़ते अपराध पर डीजीपी ने नाराजगी जताई।  उन्होंने अपने मताहतो को सख्त आदेश देते हुए कहा कि अपराधियों को हरहाल में गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए। इसमें किसी भी प्रकार की सुस्ती अब बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कौन-कौन अपराधी छुट्टा घूम रहे हैं और कौन सलाखों के पीछे हैं। इसकी सूची थाना प्रभारी खुद तैयार करें। 

डीजीपी ने पुलिस अधिकारियों को अपराध पर लगाम लगाने को लेकर ये टास्क और मंत्र दिए

1- सम्पत्ति के विरुद्ध   होनेवाले अपराध यथा लूट,डकैती,चोरी और गृहभेदन के सभी आरोपित और संदिग्ध अपराधियों की सूची बना कर उनके ख़िलाफ़ जोरदार अभियान चलाया जाय

२-रंगदारी के कांड में आरोपित और संदिग्ध लोगों की सूची तैयार कर एक एक की कमर तोड़ी जाए .

३- फिरौती के लिए अपहरण में आरोपित और संदिग्ध लोगों की सूची बना कर एक एक की गतिविधि का सत्यापन किया जाए.

४-शराब बंदी क़ानून को प्रभाव शाली तरीक़े से लागू कराया जाए.शराब मफ़ियावों की सम्पत्ति ज़ब्त  करने की कारवाई हो और इनसे साँठ गाँठ रखने वाले अधिकारियों को चिन्हित कर उनके ख़िलाफ़ कठोर कारवाई हो

५-थाना पर किसी के साथ कोई दुर्व्यवहार ना हो 

६- शहर में प्रभावकारी गश्ती की व्यवस्था की जाए और इसकी मॉनिटरिंग ख़ुद ssp और senior ऑफ़िसर करें.

बता दें की राजधानी पटना में लगातार गिरती विधि व्यवस्था को लेकर पटना के करीब 24 थानेदारों को 3 दिन पहले बदल दिया गया था। आपको बता दें कि  पटना में सबसे बड़ा सोना लूट के बाद पुलिस की काफी किरकिरी हुई थी ।तमाम दावों के विपरीत पटना में  दिनदहाड़े हत्या और लूट की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही थी

इसे देखते हुए पटना के एसएसपी गरिमा मलिक ने पटना के 24 थानेदारों को बदल दिया था इसी सिलसिले में  डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे नए थानेदारों सहित जिला के तमाम वरिष्ठ पुलिस पदाधिकारियों के साथ पटना एसएसपी कार्यालय में मीटिंग की।

अब देखना होगा डीजीपी महोदय के लगातार परिश्रम के बाद भी राजधानी पटना में क्राईम पर अंकुश लग पाता है या नहीं।

कुंदन की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News