अयोध्या से चलकर सीतामढ़ी पहुंचा भगवान राम का दिग्विजय रथ, जिलेवासियों ने किया भव्य स्वागत

अयोध्या से चलकर सीतामढ़ी पहुंचा भगवान राम का दिग्विजय रथ, जिलेवासियों ने किया भव्य स्वागत

SITAMARHI : विजयादशमी के दिन श्री राम जन्मभूमि अयोध्या धाम से राष्ट्रीय एकता के लिए भगवान राम की दिग्विजय यात्रा का शुभारंभ किया गया। अयोध्या से चलकर गोपालगंज के रास्ते सीतामढ़ी पहुंचे रामराज्य रथ का जिलावासियों ने भव्य स्वागत किया। रथ यात्रा श्री शक्ति सदानंद महर्षि के नेतृत्व में 60 दिनों तक चलने वाली यात्रा है। 27 राज्य में दो महीने तक 15000 किलोमीटर तक यह यात्रा चलेगी। 


5 अक्टूबर विजयदशमी से 3 दिसंबर गीता जयंती तक यात्रा भारत और नेपाल को जोड़कर कलयुग में अनोखी एवं ऐतिहासिक रथयात्रा है। श्री राम का भव्य मंदिर का प्रतिरूप 28 फीट लंबे और 11 फीट चौड़ा और 13 फीट ऊंचे रथ पर विराजमान श्री राम के प्रतिमा के साथ दर्जनों साधु संत इस यात्रा के साक्षी थे। रात्रि विश्राम के साथ दूसरे दिन यह यात्रा जनकपुर के लिए प्रस्थान करेगी।

बताते चलें की श्री रामदास मिशन की दिग्विजय रथयात्रा पड़ोसी देश नेपाल से होते हुए कुल 27 राज्यों से होकर गुजरेगी। श्रीराम की दिग्विजय यात्रा के माध्यम से सरकार से इंडिया को भारत घोषित करने, भारतीय शिक्षा में रामायण और असली इतिहास को शामिल करने की मांग की जाएगी। 

दिग्विजय यात्रा को अश्वमेघ यज्ञ की तर्ज पर विश्व कल्याण के लिए किया जा रहा है। श्री रामदास मिशन के राष्ट्रीय मंत्री श्रीशक्ति शांतानंद मनुषी ने बताया कि रामराज्य रथ यात्रा अयोध्या से गोरखपुर, गोपालगंज, सीतामढ़ी, जनकपुर, काठमांडू से पुनः अयोध्या में समाप्त होगी।

सीतामढ़ी से अविनाश की रिपोर्ट  

Find Us on Facebook

Trending News