शिष्य आनंद गिरि हरिद्वार के आश्रम से गिरफ्तार, अखाड़ा परिषद अध्यक्ष आचार्य नरेंद्र गिरी की मौत का खुलेगा राज

शिष्य आनंद गिरि हरिद्वार के आश्रम से गिरफ्तार, अखाड़ा परिषद अध्यक्ष आचार्य नरेंद्र गिरी की मौत का खुलेगा राज

LUCKNOW :अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़ा के सचिव महंत नरेंद्र गिरि की रहस्यमयी मौत के मामले में महंत नरेन्द्र गिरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे पकड़ने के लिए सोमवार की देर शाम उत्तर प्रदेश से सहारनपुर पुलिस  SOG की टीम हरिद्वार के आश्रम में पहुंची थी. जहां पुलिस के द्वारा तक़रीबन डेढ़ घंटे तक पूछताछ की प्रक्रिया जारी रही और इसके बाद उनके शिष्य आनंद गिरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 

सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में महंत नरेंद्र गिरी की मौत हो गयी थी. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस को महंत के कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला था। इस नोट में उन्होंने अपनी हत्या किए जाने को लेकर संदेह जाहिर किया था। साथ ही अखाड़े की संपत्ति को लेकर अपने शिष्य आनंद गिरी के काम पर सवाल उठाए थे। जिसके बाद से ही आनंद गिरी पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही थी। 

उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से जारी सूचना के बाद उत्तराखंड पुलिस ने सोमवार की देर रात को ही हरिद्वार के आश्रम में आनंद गिरि को अपने हिरासत में ले लिया था. मिली जानकारी के मुताबिक़ आनंद के बाद आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी को भी उत्तर प्रदेश पुलिस ने पूछताछ के लिए प्रयागराज से हिरासत में ले लिया था. तक़रीबन  साढ़े 10 बजे उत्तर प्रदेश की सहारनपुर SOG की टीम पहुंची और तक़रीबन डेढ़ घंटे तक चली पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर के अपने साथ उत्तर प्रदेश ले आई. आनंद गिरी के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. एक अन्य शिष्य अमर गिरी पवन महाराज द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है.


महंत की मौत पर पीएम, सीएम ने जताया दुख

जहां यूपी पुलिस महंत नरेंद्र गिरी की मौत की गुत्थी सुलझाने में लगी है। वहीं दूसरी तरफ उनकी मौत पर राजनीतिक गलियारों और हिंदू संगठनों में शोक का माहौल छा गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक जाहिर किया है। उन्होंने ट्वीट करके कहा ‘अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री नरेंद्र गिरि जी का देहावसान अत्यंत दुखद है. आध्यात्मिक परंपराओं के प्रति समर्पित रहते हुए उन्होंने संत समाज की अनेक धाराओं को एक साथ जोड़ने में बड़ी भूमिका निभाई.  

वहीं समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल से जानकारी दी गयी है की सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव प्रयागराज पहुंचकर महंत नरेंद्र गिरि के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन करेंगे. अखिलेश यादव 11 बजे प्रयागराज पहुंचेंगे। बसपा सुप्रीमो और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने महंत नरेंद्र गिरी को श्रधांजलि दी और ट्वीट करते हुए लिखा – "देश के प्रख्यात संत व अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत श्री नरेन्द्र गिरि जी की मौत की खबर अति-दुःखद तथा जिस परिस्थिति में उनकी मौत की खबर है वह अति-चिन्तनीय. उनके अनुयाइयों के प्रति मेरी गहरी संवेदना

Find Us on Facebook

Trending News