पंचायत राज पदाधिकारी के आदेश की अवहेलना : बिना वार्ड सभा किए मनमानी तरीके से निजी दरवाजे पर वार्ड सभा कर सचिव का किया गठन

पंचायत राज पदाधिकारी के आदेश की अवहेलना : बिना वार्ड सभा किए मनमानी तरीके से निजी दरवाजे पर वार्ड सभा कर सचिव का किया गठन

NAUGACHHIYA : खैरपुर कदवा पंचायत अंतर्गत विभिन्न वार्डों में निर्वाचित वार्ड सदस्यों द्वारा जिला पंचायत राज पदाधिकारियों के आदेशों को ताक पर रख खुलेआम उसकी खिल्लियां उड़ाई जा रही है। जहां वार्ड सदस्यों द्वारा मनमाने तरीके से वार्ड सभा किए बिना ही निजी लोगों के दरवाजे पर बैठ कर वार्ड सचिवों का गठन कर लिया गया है। जबकि जिला राज पंचायत पदाधिकारियों के गाइड लाइनों में स्पष्ट निर्देश है कि वार्ड सभा की बैठक संबंधित वार्ड में अवस्थित पंचायत भवन, पंचायत सरकार भवन, सामुदायिक भवन या किसी अन्य सुविधाजनक सार्वजनिक स्थान पर होने की बात कही गई है। अब यह मामला सामने आने के बाद बीडीओ ने पूरी जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

क्या है पूरा मामला 

 गुरुवार को खैरपुर कदवा पंचायत के वार्ड नंबर एक में वार्ड सदस्य सुलेखा देवी के द्वारा बिना वार्ड सभा व अन्य ग्रामीणों को सूचना दिए हीं वहां एक निजी व्यक्ति के दरवाजे पर वार्ड सभा कर सचिव का गठन कर लिया गया है. जिसमें वार्ड सदस्य दर्जनों लोगों को आवास, गैस चूल्हा व वृद्धा पेंशन दिलाने के नाम पर लोगों से हस्ताक्षर ले लेते है. वहां के ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए शनिवार को नवगछिया बीडीओ को लिखित शिकायत की है कि वार्ड नंबर एक में तीन लोगों ने अपने सचिव पद के लिए दावेदारी किया था. जिसमें वार्ड सभा के माध्यम से सचिव का गठन होना था लेकिन, वार्ड सदस्य सुलेखा देवी ने अपने निजी स्वार्थ में बिना किसी को सूचना दिए हीं दूसरे के दरवाजे पर सचिव व वार्ड क्रियान्वयन प्रबंधन समिति का गठन किया है. ग्रामीणों ने जब वार्ड सदस्य से इस बारे में पूछा तो वार्ड प्रतिनिधि सीताराम मंडल ने कहा कि मेरा जो मन होगा उसी को सचिव बनाएंगे. दूसरे किसी का कुछ नहीं चलेगा।

शिकायत के बाद बीडीओ ने मांगी जानकारी

मामले में नवगछिया बीडीओ सरीना आजाद ने सुनवाई करते हुए प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी सतीश कुमार सिंह को दो दिनों के अंदर जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है. शनिवार को तेतरी पकरा, यमुनियां, नगरह, कदवा दियारा के भी लोग इस तरह की शिकायत करने प्रखंड कार्यालय पहुंचे थे।

क्या कहते हैं नवगछिया प्रखंड विकास पदाधिकारी

नवगछिया बीडीओ सरीना आजाद ने बताया कि-वार्ड सचिव व क्रियान्वयन प्रबंधन समिति गठन प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी के द्वारा किया जाना है. उनके स्तर से जो लेटर निकाली गई है, मुझे कोई सूचना नहीं दी गई है. जिसके कारण कई समस्याएं आ रही है. नगरह, खगड़ा, जमुनिया व अन्य पंचायतों के भी एप्लीकेशन दिया है- बिना सूचना दिए पब्लिक प्लेस पर वार्ड सभा किए बगैर निजी प्लेस पर इस प्रकार की कार्य किया जा रहा है. यह अनियमितता है, गाइडलाइन के खिलाफ है. इस स्तर के जो भी मेरे पास एप्लीकेशन आया है. जांच के लिए दिया गया है. जैसे ही जांच आता है, उससे हम एक्शन लेंगे और साथ ही प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी को स्पष्टीकरण का जो प्रतिलिपि है प्रखंड स्तर से अनुमंडल पदाधिकारीऔर डीडीसी मैम को भेज दिया गया है. 

बीडीओ ने प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि लॉ एंड ऑर्डर के लिए प्रतिनियुक्ति किस प्रकार की व्यवस्था की गई है. यह मुझे कोई सूचना नहीं दिया गया है. दूसरा यह है कि मैं उनसे कान्टेक्ट करने का प्रयास किया है कि किस प्रकार की व्यवस्था क्या है? ताकी व्यवस्था कर सकूं. लेकिन. उनको फोन करने पर भी फोन रिसीव नहीं होता है. उनसे कांटेक्ट नहीं हो पाता हो पाता है. तीसरा चीज है कि कन्संस किए बिना अपने स्तर से लेटर निकालते हैं. जिसके कारण मुझे असुविधा होती है।

 पब्लिक डीलिंग करने के लिए कि वह किस प्रकार के लेटर निकालते हैं. हम उस स्तर के एक्शन ले आगे और ऐसा ना हो. हम बैठ कर के इसकी बातचीत करने का भी प्रयास रही हूं. वही बीडीओ ने पब्लिक सुविधा के लिए पंचायती राज पदाधिकारी को जांच करने को कहा गया है. ताकि आगे ऐसा ना हो. साथ ही अपना फोन नंबर व व्हाट्सएप नंबर सर्कुलेट करें. ताकि जो भी समस्या हो सॉर्ट आउट हो. क्योंकि लोगों के पास जानकारी के अभाव में जो गाइडलाइन को पढ़ कर समझ नहीं पा रहे हैं. वहां प्रतिनियुक्ति का निर्देश दिए हुए हैं.

Find Us on Facebook

Trending News