पत्नी के दारोगा बनते ही रिश्ते में आने लगी दूरियां, नतीजा घरेलू कलह से परेशान हो युवक ने दे दी जान

पत्नी के दारोगा बनते ही रिश्ते में आने लगी दूरियां, नतीजा घरेलू कलह से परेशान हो युवक ने दे दी जान

AURANGABAD :- औरंगाबाद के रफीगंज थाना क्षेत्र के बेढना बिगहा गांव में उस समय ऑफर तफरी की माहौल हो गई जब  गांव के ही राम कुमार दास के 40 वर्षीय पुत्र प्रवीण कुमार ने घरेलू विवाद के कारण जहर खा लिया है और बेहोश है। सूचना मिलते ही परिजनों एवं ग्रामीणों ने आनन फानन में उसे रफीगंज सामुदायिक स्वस्थ केंद्र लाया जहाँ डॉक्टरों ने उसे जाचो उपरांत  मृत घोषित कर दिया. 

घटना की सूचना मिलते ही रफीगंज थाना के एसआई निशा कुमारी अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंच कर  शव को अपने कब्जे मे लेते हुये  पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल औरंगबाद भेज दिया। जहां मृतक के चाचा ने बताया कि मृतक के शादी रोहतास जिला के करहगर थाना के रेडिया गांव निवासी बबन राम के पुत्री सुमन कुमारी के साथ 2016 मे हुई थी 2018 में इसकी पत्नी दरोगा हो गईं और इसके बाद दोनों का सम्बंध खराब हो गया और ससुराल पक्ष के द्वारा हमेशा प्रवीन को प्रताड़ना किया जाता था,आज बीती रात्रि खाना खाकर वह  सोया हुआ था, जब सुबह नही उठा तो पानी से उसे जागने की कोशिश की गई,लेकिन वह नही जाग सका तब गेट तोड़ कर उसे देख गया तो वह अचेत अवस्था मे पड़ा हुआ था और बगल में टेबल पर सल्फज का गोली एवं सीक्रेट भी रखी हुई थी। 

पत्नी और उसके परिवार पर लगा प्रताड़ना का आरोप

वही मृतक की माँ सिकान्ति देवी के आवेदन पर थाने मे प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है,जिसमे  में मृतक की पत्नी सुमन कुमार ,ससुर बबन राम, सास , साला सनी कुमार ,  संजीव कुमार, भाइया राम को नामजद को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। आवेदन मे मृतक के माँ ने यह उल्लेख किया कि मैं औरंगबाद में थी, गांव से सूचना मिली कि बड़ा पुत्र प्रवीण कुमार की मौत हो गई हैं। प्रवीन इधर कुछ महीनों से गांव में ही रह रहा था। मुझे पूर्ण विश्वास है कि ससुराल पक्ष के द्वारा प्रताड़ना के कारण सल्फास की गोली खाकर मेरा  बेटा अपना जन दे दिया है।

कोर्ट में चल रहा था तलाक का मामला 

वही थानाध्यक्ष राम इकबाल यादव ने बताया कि मृतक को अपने पत्नी के साथ तालाक को ले कर कोट में मामला चल रहा था. अब मौत के पीछे क्या कारण है वह तो जाँच तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा वही शव को।रफीगंज पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद सदर हॉस्पिटल भेज दिया है । जहाँ शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजन को सौप कर दिया गया है और रफीगंज पुलिस आगे की करवाई में जुट गई है।


Find Us on Facebook

Trending News