जैविक एवं मल्टीलेयर कृषि के प्रशिक्षण शिविर में पहुंचे पहुंचे डीएम राज कुमार, कहा- आरके सिन्हा के जैविक कृषि क्रांति अभियान का होगा दूरगामी परिणाम

जैविक एवं मल्टीलेयर कृषि के प्रशिक्षण शिविर में पहुंचे पहुंचे डीएम राज कुमार, कहा- आरके सिन्हा के जैविक कृषि क्रांति अभियान का होगा दूरगामी परिणाम

आरा. भोजपुर जिले के कोइलवर प्रखण्ड स्थित बहियारा गांव में आद्या मिल्क एंड ऑर्गेनिक प्रोडक्ट प्राइवेट लिमिटेड के बैनरतले चल रहे आठ दिवसीय ऑर्गेनिक एवं मल्टीलेयर खेती के प्रशिक्षण शिविर में बुधवार को जिलाधिकारी राजकुमार भी शामिल हुए और प्रशिक्षण के दौरान मल्टीलेयर कृषि के जनक आकाश चौरसिया के सैद्धांतिक क्लास में बैठकर जैविक एवं मल्टीलेयर खेती के विभिन्न पहलुओं को भी नजदीक से समझा।

जिलाधिकारी राजकुमार जिला प्रशासन के कई अधिकारियों के साथ बहियारा में चल रहे आठ दिवसीय ऑर्गेनिक एवं मल्टीलेयर खेती के प्रैक्टिकल  प्रशिक्षण शिविर में भाग लिया और इस दौरान न सिर्फ आकाश चौरसिया द्वारा बताए गए ऑर्गेनिक एवं मल्टीलेयर खेती के तरीकों को जाना बल्कि इसे किसानों की आय में भारी वृद्धि कर उन्हें सुख, समृद्धि एवं खुशहाली की राह पर पहुंचाने वाला खेती भी बताया।

पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा की पहल पर शुरू हुए ऐसे प्रशिक्षण शिविर को जिलाधिकारी राज कुमार ने किसानों और कृषि की दुनिया में बड़े बदलाव का वाहक बताते हुए उनके द्वारा देश भर में प्राचीन कृषि पद्धति की पुनर्वापसी के लिए किए जा रहे ऐसे कार्यों के लिए उन्हें बधाई और शुभकामनाएं भी दी और कहा कि उनके इन साहसिक कार्यों के बदौलत भोजपुर, बिहार और देश मे कृषि क्रांति आएगी और देश की नई पीढ़ी जैविक खेती के बदौलत बीमारीमुक्त होगी वहीं पारंपरिक खेती के बदले मल्टीलेयर खेती से देश के किसान भी समृद्ध होंगे।किसानों के चेहरों पर मुस्कान होगी।

कोइलवर प्रखण्ड के बहियारा स्थित आद्या ऑर्गेनिक फार्म पर पिछले कई सालों से चल रहे जैविक कृषि,देशी गायों की गौशाला, प्राचीन पद्धति से तेल निकालने, घी निकालने, सत्तू और बेसन की पिसाई करने आदि कई कार्यों को घूम घूम कर जिलाधिकारी ने देखा, निरीक्षण किया और कहा कि ऐसी विधियों को अपनाकर ही नई पीढ़ी को बीमारियों से आजादी दिलाई जा सकती है और स्वस्थ पीढ़ी की कल्पना को साकार किया जा सकता है।

उन्होंने बहियारा के आद्या ऑर्गेनिक फार्म पर चल रहे ढेंकी,जांता, कोल्हू,बेलन से दही मथने सहित कई तरह के लकड़ी और पत्थर के बने पुराने औजारों और संसाधनों का निरीक्षण किया और कहा कि प्राचीन तौर तरीकों को अपनाकर ही लंबी जीवन जीने की शैली को हासिल किया जा सकता है।

इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि चर्चित जैविक कृषि वैज्ञानिक और मल्टीलेयर कृषि के जनक आकाश चौरसिया के पास कृषि के क्षेत्र में क्रांति ला देने की व्यापक सोंच,जानकारी और अनुभव है और भोजपुर के किसानों को रसायन मुक्त खेती की तरफ आकर्षित करने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से इनका समय समय पर सहयोग लिया जाएगा और जिले में जैविक और मल्टीलेयर खेती के दायरे को व्यापक स्तर पर फैलाने के साथ ही  सरकारी और प्रशासनिक कार्यों में आकाश चौरसिया की मदद ली जाएगी।

उधर अवसर ट्रस्ट के सौजन्य से आयोजित किये जा रहे आद्या ऑर्गेनिक के आठ दिवशीय जैविक कृषि कार्यशाला और प्रशिक्षण शिविर के चौथे दिन भोजपुर के जिलाधिकारी राजकुमार के बहियारा पहुंचने और सैद्धांतिक क्लास में शामिल होकर प्राचीन कृषि पद्धति और उससे कृषि के क्षेत्र में शुरू हुए बड़े बदलाव को जानने के प्रयासों की पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने प्रशंसा की है।उन्होंने कहा  कि उनके द्वारा यूरिया और अन्य रासायनिक खादों पर आधारित खेती को समाप्त कर जैविक एवं मल्टीलेयर खेती की देश मे प्रचलन शुरू कराने में स्थानीय स्तर पर सभी जगह  जिला प्रशासन का सहयोग मिलता रहा तो आने वाले दिनों में देश को बीमारी से मुक्त करने में बड़ी कामयाबी मिलेगी।

पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने कहा कि उनका कुछ सालों पहले जैविक कृषि के क्षेत्र में शुरू किया गया अभियान अब निश्चित रूप से रंग लाने लगा है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार ने भी देश मे जैविक खेती के लिए योजनाएं बनाई और उसे अब कार्यान्वित करने की शुरुआत की है।राज्य सरकार भी गंगा नदी के दोनों तरफ के पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले क्षेत्र को जैविक कॉरिडोर की श्रेणी में शामिल कर यहां जैविक खेती की शुरुआत की है।

उन्होंने कहा कि उन्हें बेहद प्रशन्नता है कि उनके द्वारा स्वस्थ एवं समृद्ध भारत के निर्माण के लिए जैविक कृषि के क्षेत्र में शुरू किए गए अभियान को अब केंद्र और राज्य सरकारों का व्यापक समर्थन मिलने लगा है और सरकार ने भी अब भावी पीढ़ी के स्वास्थ्य को लेकर इस दिशा में कार्य कर दिया है। आद्या ऑर्गेनिक के प्रशिक्षण शिविर में भोजपुर के डीएम के साथ आरा सदर एसडीओ लाल ज्योतिनाथ साहदेव, कोइलवर के बीडीओ सहित कई प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

Find Us on Facebook

Trending News