DM साहब का बालू का बोरी उठाना भी नही हो सका सफल,आखिरकार बाढ़ के पानी मे धंस गया बांध

DM साहब का बालू का बोरी उठाना भी नही हो सका सफल,आखिरकार बाढ़ के पानी मे धंस गया बांध

MOTIHAR : पूर्वी चंपारण  खोरीपाकड़ बांध को बचाने के लिए कुछ दिन पहले जिले के डीएम रमन कुमार खुद बालू के बोरी को उठाकर श्रम दान किया था।तब उनके इस काम की काफी तारीफ हुई थी। पूरे देश मे उनकी काम करने वाली तस्वीर वायरल हुई थी। मीडिया में उनके इस काम की काफी प्रशंसा भी हुई थी।

लेकिन डीएम साहब का बालू भरा बोरी उठाना तब विफल साबित हो गया जब बीती रात बांध धंस गया। बाढ़ के पानी रिसाव की वजह से बांध खोड़ीपकड़ के समीप धंस गया जिस वजह से पूरे इलाके में कोहराम मच गया।

दरअसल बीती देर रात बागमति एवं लालबकेया नदी के खोरीपाकर गांव स्थित बांध धंस गया। बांध धंसने से बागमति और लालबकेया नदी का पानी गांव में घुस गया। अचानक रात में बांध धंसने और गांव में पानी घुसने से कोहराम मच गया। 

आनन-फानन में ग्रामीणों ने इसकी सूचना एसडीओ मेधावी एवं जल निस्सरण विभाग के कार्यपालक अभियंता रणवीर प्रसाद को दी। सूचना मिलते ही कार्यपालक अभियंता प्रसाद खोरीपाकर बांध पहुंचे।

देर रात से जेनरेटर के सहारे बांध को बचाने कार्य चल रहा है। वहीं बाल्मिकी नगर के एसी रंजन कुमार भी बांध पर पहुंच कैम्प कर रहे है। वहीं ग्रामीणों द्वारा भी बांध के मरम्मती में सहयोग किया जा रहा है। 

बता दें कि पिछले दिनों जिले के डीएम रमन कुमार इसी बांध में हो रहे रिसाव को रोकने के लिए श्रमदान किया था। वे स्वंय भी बालू के बोरे को उठाकर बांध के मरम्मत में योगदान दिया था।  


Find Us on Facebook

Trending News