दहशत में डॉक्टर : नवादा सदर अस्पताल में पुलिसकर्मियों के रहते असुक्षित महसूस करते हैं चिकित्सक

दहशत में डॉक्टर : नवादा सदर अस्पताल में पुलिसकर्मियों के रहते असुक्षित महसूस करते हैं चिकित्सक

NAWADA : नवादा में कार्यरत डॉक्टरों की लगातार पिटाई हो रही है. इस मामले को लेकर आज डॉक्टरों ने सिविल सर्जन ऑफिस में बैठक की. इस बैठक में कई निर्णय लिए गए. इस मौके पर मौजूद उपाधीक्षक डॉ विमल प्रसाद, डॉ एचडी अरेयार, डॉ उमेश चंद्र, डॉ.अजय कुमार, डॉ.नीलम कुमारी, ईश्वरी सिंह आदि ने कहा कि जिस तरीके से सदर अस्पताल को टारगेट कर डॉक्टर की पिटाई की जाती है.

 वह घोर निंदनीय  है. पुलिस की ओर से कोई सुरक्षा नहीं दी जाती है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को कैदी की मौत के बाद डॉक्टरों को निशाना बनाया गया. ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर और नर्स की पिटाई की गई थी. अस्पताल में तैनात पुलिसकर्मियों से डॉक्टर गुहार लगाते रहे. लेकिन कोई पुलिसकर्मी डॉक्टरों को बचाने आगे नहीं आया. 

डॉ.एच डी रिया ने कहा है कि हम लोग डर-डर कर ड्यूटी करते हैं. अगर इसी तरह रहा तो आने वाले समय में हमलोग अनिश्चितकालीन हड़ताल भी कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि वरिय अधिकारी कुछ भी नहीं करते हैं. जब हम लोग हड़ताल पर चले जाते हैं तो सिर्फ आश्वासन देकर ही हम लोग को वापस बुला लिया जाता है. उन्होंने कहा कि आखिर यह कब तक ऐसा चलता रहेगा. कोई भी डॉक्टर अस्पताल में सुरक्षित महसूस नहीं करता है. डॉक्टरों ने यहां तक कहा है कि आज तक पिटाई करने वाले लोगों पर कार्रवाई तक नहीं की गयी है. 

बताते चलें कि नवादा में डॉक्टर की पिटाई कोई नयी घटना नहीं है. पहले भी डॉक्टरों की पिटाई  कि जा चुकी है. अस्पताल में किसी की मौत होने के बाद डॉक्टर की पिटाई निश्चित तौर पर हो ही जाती है और पुलिसकर्मी भी भीड़ को देखकर आगे आने की हिम्मत नहीं जुटा पाते हैं. 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News