बेगूसराय सदर अस्पताल में हड़ताल पर डॉक्टर, मरीजों का इलाज और मृतकों का पोस्टमार्टम रुका

बेगूसराय सदर अस्पताल में हड़ताल पर डॉक्टर, मरीजों का इलाज और मृतकों का पोस्टमार्टम रुका

BEGUSARAI : बेगूसराय के सदर अस्पताल में आज डॉक्टर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं. इससे मरीजों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. आलम यह है की बड़ी संख्या में मरीज इलाज के लिए इधर-उधर भटकते फिर रहे हैं. लेकिन उनकी सुधि लेने के लिए कोई भी चिकित्सक मौजूद नहीं है. इतना ही नहीं पोस्टमार्टम कराने आए लोग भी टकटकी लगाकर डॉक्टर का इंतजार कर रहे हैं. लेकिन शव का पोस्टमार्टम भी नहीं हो पा रहा है. दरअसल चिकित्सकों ने जिला प्रशासन पर भेदभाव पूर्ण रवैया अपनाते हुए गलत मामला दर्ज कर चिकित्सकों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. इसी वजह से आज से चिकित्सक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं. 

क्या है मामला

दरअसल मामला यह है की पिछले दिनों पोखर में एक युवक डूब गया था. युवक के परिजन जब तक युवक को लेकर सदर अस्पताल आये. तब तक उसकी मौत हो गयी थी. सदर अस्पताल में डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया था. इसी के बाद मृतक के परिजनों ने सदर अस्पताल में जमकर बवाल काटा था. जबकि पुलिस ने ड्यूटी पर तैनात चिकित्सकों पर ही मामला दर्ज कर दिया था. आज इसी बात से आक्रोशित चिकित्सकों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल का निर्णय लिया है. चिकित्सकों के अनुसार जब तक पूर्ण सुरक्षा की गारंटी नहीं दी जाएगी हड़ताल जारी रहेगा.

चिकित्सकों की इस हड़ताल से मरीज हलकान हैं. वे दर्द के मारे सदर अस्पताल के फर्श पर ही रहने को विवश हैं. मरीजों के परिजनों के अनुसार चिकित्सकों के हड़ताल के संबंध में किसी को जानकारी नहीं थी. बड़ी संख्या में मरीज अपनी बीमारी का इलाज कराने सदर अस्पताल पहुंचे थे. लेकिन अब अनिश्चितकालीन हड़ताल की बात सुनकर मरीज दर्द से तड़पने को विवश हैं.

इस हड़ताल की वजह से मानवीय संवेदना को झकझोरने वाली एक और तस्वीर सामने आई है. यहाँ लोग अपने परिजन का पोस्टमार्टम कराने के लिए सदर अस्पताल पहुंचे थे. लेकिन चिकित्सकों की हड़ताल की वजह से जिंदा ही नहीं मुर्दे भी चिकित्सकों की ओर आशा भरी नजरों से देख रहे हैं. बताते चलें की दो शव सुबह से ही अस्पताल में रखा हुआ है. अभी तक उनका पोस्टमार्टम नही हो सका है.

बेगूसराय से धनंजय झा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News