सर्पदंश की शिकार के इलाज के लिए डॉक्टर भी मौजूद थे, दवा भी उपलब्ध, लेकिन फिर भी इस कारण से चली गई महिला की जान

सर्पदंश की शिकार के इलाज के लिए डॉक्टर भी मौजूद थे, दवा भी उपलब्ध, लेकिन फिर भी इस कारण से चली गई महिला की जान

JAHANABAD : अस्पताल मे मौत की घटनाएं होती रहती है, कई बार सही तरीके से इलाज नहीं मिलने का कारण मौत की घटनाएं हो जाती है, जिसमें डॉक्टरों पर आरोप लगते रहे हैं। लेकिन जहानाबाद के सदर अस्पताल में एक महिला की मौत वजह अलग है। यहां सर्पदंश की शिकार एक महिला को इलाज के लिए लाया गया था। अस्पताल में वह समय पर पहुंच भी गई, डॉक्टर भी  थे, एंटी वेनम भी उपलब्ध था. लेकिन इसके बाद भी महिला की मौत हो गई। इस मौत की जो वजह सामने आई, वह बेहद ही हैरान करनेवाली है। बताया गया कि जिस अलमारी में एंटी वेनम रखी हुई थी, उसकी चाबी समय पर डॉक्टर को नहीं मिली। वह चाबी खोजते रहे और बाहर इलाज के अभाव में तड़पते हुए महिला की जान चली गई।

जहानाबाद सदर अस्पताल में हुए इस घटना के बारे में बताया गया कि जिले के पाली थाना क्षेत्र के सैदाबाद गांव में एक महिला को जिसका नाम सरोजा देवी उम्र लगभग 50 वर्ष सांप डस लिया इसे इलाज के लिए  भर्ती कराया गया। लेकिन डॉक्टर की लापरवाही का आलम यह रहा कि इस महिला के शरीर में जहर फैलता रहा और जिस अलमारी में सांप काटने की दवा थी उसके चाबी स्वास्थ्य कर्मी खोजते रहे ।चाबी खोजते खोजते उस महिला की मौत हो गई।

इस घटना पर उसके परिजन भड़क गए और अस्पताल में ही हंगामा करना शुरू कर दिएहंगामा होते देख स्वास्थ्य कर्मी इधर उधर भाग खड़े हुए। इस घटना की सूचना स्थानीय थाना पुलिस को दिया गया मौके पर पुलिस पहुंच किसी तरह परिजन को समझा-बुझाकर मामले को शांत करवाया। इस बाबत पूछे जाने पर सिविल सर्जन ने बताया कि जांच की जा रही है जो लोग भी इस घटना में लापरवाही बरते हैं उन पर कार्रवाई किया जाएगा ।

बहरहाल,  जिस तरह से लगातार जिले के बड़े अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लापरवाही दिख रही है इससे यह प्रतीत होता है कि स्वास्थ्य कर्मी अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाह दिख रहे हैं। अस्पताल में मरीजों  जो जमीन पर पड़े हुए हैं। और उनको देखने वाला कोई नहीं है। जब भी कोई बड़ी घटना होती है तो जांच की बात कर इसे टाल दिया जाता है।और जांच सिर्फ दिखावा रह जाता है।अब देखना है कि लापरवाही बरतने वाले स्वास्थ्य कर्मी पर क्या कार्रवाई होती है यह तो आने वाला समय ही बताएगा लेकिन जिस तरह से स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लापरवाही बरती गई है उसके स्वास्थ्य विभाग की किरकिरी हो रही है।

Find Us on Facebook

Trending News