डॉक्टर ने घोषित कर दिया मुर्दा, फिर 4 दिन बाद ऐसे जिंदा हो गई लड़की

डॉक्टर ने घोषित कर दिया मुर्दा, फिर 4 दिन बाद ऐसे जिंदा हो गई लड़की

चतरा. यकीन नहीं करेंगे लेकिन, कुछ ऐसी घट ईश्वर जिसकी रक्षा करता है उसे कोई मार नहीं सकता. यहां तक कि यदि पूरी दुनिया शत्रु बन जाए, तब भी उसकाकुछ बिगाड़ नहीं सकता.

 इस बात को सत्य कर दिखाया गेंजना पंचायत के सोनपुरा गांव में घटी एक घटना ने वहां पिछले गुरुवार की देर शाम सीटू यादव की पत्नी शकुंत़ला देवी ने अपनी दो बच्चियों सोनी कुमारी (डेढ़ वर्ष) और गोली कुमारी (तीन वर्ष) को कुएं में डाल दिया था. 

गांव वालों ने तत्परता दिखाते हुए दोनों बच्चियों को कुएं से निकाल लिया और पड़ोसी गांव पांडेयपुरा के एक चिकित्सक के पास ले गए.चिकित्सक ने छोटी बच्ची सोनी कुमारी को मृत घोषित किया और गोली कुमारी की स्थिति चिंताजनक बताई. बच्ची के परिजनों को चिकित्सक की बातों पर भरोसा नहीं हुआ और वह दोनों बच्चियों को सीमावर्ती बिहार के गया जिले के शेरघाटी स्थित सरकारी अस्पताल ले गए. 

वहां चिकित्सक ने इलाज से इन्कार कर दिया तो परिजन दोनों बच्चियों को लेकर गया पहुंचे, जहां अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कालेज अस्पताल में चिकित्सक ने दोनों को कोमा में मानकर इलाज शुरू किया और कहा-अब सब ऊपर वाले के हाथ में है. यहां चार दिन तक आइसीयू में रखकर गहन चिकित्सा के बाद बच्ची को होश आ गया और वह जी उठी। परिवार वाले खुशी से चहक उठे.



Find Us on Facebook

Trending News