पानी भरे टब में गिरने से बच्ची की मौत, परिजनों ने इलाज में लापरवाही का लगाया आरोप

पानी भरे टब में गिरने से बच्ची की मौत, परिजनों ने इलाज में लापरवाही का लगाया आरोप

PATNA : पटना के मनेर में सोमवार की शाम को पड़ावपर स्थित एक घर में खेलने के दौरान एक बच्ची पानी भरे टब में गिर पड़ी. टब में गिरने से उसकी दम घुटने से मौत हो गई. परिजनों का आरोप है कि बच्ची को नाजुक हालत में ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए. जहां किसी चिकित्सक के ना रहने के कारण उसका इलाज नहीं हो सका और अस्पताल में ही मौत हो गई. 

बताया जाता है कि मनेर पड़ाव पर डाकघर के पास के रहने वाले पूरनजीत गुप्ता की डेढ़ वर्षीय बच्ची लक्ष्मी कुमारी अपने घर में ही खेलने के दौरान पानी भरे टब में गिर पड़ी. पानी भरे टब में गिरी बच्ची पर उसकी मां की नजर पड़ी तो तुरंत उसे टब से बाहर निकाला. परिजन आनन फानन में उसे लेकर कई निजी चिकित्सा केंद्रों पर गए. 


लेकिन कोरोना के कारण कोई भी चिकित्सक उसे हाथ नहीं लगाया. अंततः  भागते हुए मनेर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे. परिजनों का आरोप है कि वहां कोई भी चिकित्सक मौजूद नहीं था. परिजनों ने इस बात की सूचना देने के लिए सिविल सर्जन से भी बात करने की कोशिश की. लेकिन सिविल सर्जन ने फोन नहीं उठाया. 

उसके बाद परिजनों ने चिकित्सा प्रभारी को फोन किया, प्रभारी ने अस्पताल में मौके पर मौजूद किस से बात किया तो उसने भी कहा कि अस्पताल में चिकित्सक नहीं है. इधर पूछे जाने पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ0 ज्ञानरत्न का कहना था कि मिस कम्युनिकेशन के कारण दिन के पाली वाले चिकित्सक अस्पताल से निकल गए थे और रात्रि के पाली वाले चिकित्सक नहीं पहुंच पाए थे. हालांकि उन्होंने कहा कि मौके पर मौजूद एएनएम ने बच्ची की जांच की तो उसे मृत पाया. इधर बच्ची की मौत से परिजनों में कोहराम मचा है. 

पटना ग्रामीण से सुमित की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News