ऑमिक्रॉन की वजह से इस साल भी क्रिसमस रहा फीका, गिरजाघर में साधारण रूप से की गयी प्रार्थना

ऑमिक्रॉन की वजह से इस साल भी क्रिसमस रहा फीका, गिरजाघर में साधारण रूप से की गयी प्रार्थना

नवादा. क्रिसमस त्योहार को लेकर ईसाई धर्मावलंबियों में काफी उत्साह है। जोर-शोर से तैयारियां के साथ आज क्रिसमस मनाया गया। वहीं कोरोना के नये वैरिएंट ऑमिक्रॉन को लेकर इस बार भी नवादा स्थित गिरजाघर में किसी प्रकार के मेले का आयोजन नहीं हुआ। प्रभु यीशु के जन्मदिन पर गोशाला दर्शन पूर्णत: बंद रहा।

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर और ऑमिक्रॉन के बढ़ते खतरे को देखते हुए चर्च प्रबंधन यह निर्णय लिया है। गिरजाघर में पूरी तरह सजावट की गई है और लोगों ने प्रार्थना भी किए हैं। फादर राकेश रोशन ने कहा है कि ऑमिक्रॉन की खतरे को देखते हुए हम लोगों ने यह निर्णय लिया है। यहां क्रिसमस पर हजारों की संख्या में भीड़ उमड़ती है।

उन्होंने कहा ऑमिक्रॉन को लेकर आज पूरी तरह गिरजाघर को बंद रखा गया है। उन्होंने कहा कि ईसाई समाज के लोगों ने विधिवत रूप से प्रार्थना करते हुए आज यीशु का जन्मदिन मनाया है। इस दौरान जिला पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था भी की गई थी।

 

Find Us on Facebook

Trending News