दरभंगा : दुष्कर्म पीड़िता की मदद करेगी बाल कल्याण समिति, सात लाख रूपये देने का किया ऐलान

दरभंगा : दुष्कर्म पीड़िता की मदद करेगी बाल कल्याण समिति, सात लाख रूपये देने का किया ऐलान

DARBHANGA : कमतौल थाना क्षेत्र के मिल्की गांव में बीते गुरुवार को तालिबानी पंचायत के द्वारा दुष्कर्म पीड़िता को जबरन केस वापस लेने तथा केस वापस नही लेने पर अंजाम बुरा होने के फैसले के बाद पीड़िता ने डर से जहर खा लिया. जिसके बाद परिजनों के द्वारा उसे इलाज के लिए डीएमसीएच में भर्ती कराया. इस बात की जानकारी जैसे ही बाल कल्याण समिति को लगी, वैसे ही वे पीड़ित परिवार के साथ खड़े हो गए और कहा कि पीड़िता को हर संभव मदद किया जाएगा. उन्होंने कहा की बहुत जल्द ही पीड़िता को सरकारी सहायता के रूप में सात लाख रुपया मिलेगा. फिलहाल पीड़ित परिवार को सहायता के रूप दो कंबल दिया जा रहा है. 

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष बीरेंद्र कुमार झा ने कहा कि समिति ने यह निर्णय लिया है कि पीड़िता को विशेष राहत दी जाएगी. कल बाल विधिक सेवा प्राधिकार को अपनी अनुशंसा भेजेंगे. ताकि इलाज के दौरान अगर रुपये की जरूरत हो तो किसी प्रकार की परेशानी न हो. वैसे अस्पताल प्रशासन के द्वारा हमलोगों को पूरा सहयोग मिल रहा है. उन्होंने कहा कि पीड़िता अगर 12 साल से नीचे की होती तो उसे दुगुना मिलता है. लेकिन पीड़िता 12 साल से अधिक है तो इन्हें 7 लाख रुपया मिलेगा. 

बता दे कि कमतौल थाना क्षेत्र मिल्की गांव में गत अगस्त माह में एक नाबालिग लड़की के साथ गांव के ही मनचले लड़के ने दुष्कर्म किया था. जिसके बाद पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए लड़का को जेल भेज दिया. जेल जाने के बाद से ही लड़की पक्ष पर केस खत्म करने का दबाब बनाया जा रहा था. दबाब बनता नही देख लड़का पक्ष ने 14 जनवरी को पंचायत बुलाई और पंच ने केस वापस लेने की फैसला सुनाया. फैसला नहीं मानने पर अंजाम बुरा होने की धमकी तक दे डाली.  जिस पर पीड़ित परिवार तैयार नही हुआ और इसकी शिकायत करने थाना पहुंच गई. इधर धमकी से डर के पीड़िता ने जहर खा लिया. फिलहाल पीड़िता का इलाज डीएमसीएच के मेडिसिन विभाग में चल रहा है. 

दरभंगा से वरुण ठाकुर की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News