दुष्कर्म पीड़िता को मौत के बाद मिला इंसाफ, दोषियों को मिली उम्र कैद की सजा

दुष्कर्म पीड़िता को मौत के बाद मिला इंसाफ, दोषियों को मिली उम्र कैद की सजा

भागलपुर। जिले के पोक्सो कोर्ट ने गैंगरेप के दोषी दो युवकों को उम्र कैद और अर्थदंड की सजा सुनाई है, पोक्सो कोर्ट में एडीजे- 6 रोहित शंकर के द्वारा यह सजा सुनाई गई है। हालांकि सजा सुनाए जाने के दौरान पीड़िता इस दुनिया में नहीं है। दोनों दुष्कर्मियों की धमकी से परेशान होकर पीड़िता ने आत्महत्या कर ली थी।

 लोक अभियोजक शंकर जयकिशन मंडल ने बताया कि सबौर थाना क्षेत्र में 10 अक्टूबर 2017 को एक नाबालिक लड़की को दो युवक जबरन अपनी बाइक पर बैठाकर तिलकामांझी के अर्धनिर्मित मकान में ले गए और  सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया था। इस दौरान उन्होंने  नाबालिक का वीडियो बना लिया गया था, आरोपियों के द्वारा नाबालिक को वीडियो वायरल करने की धमकी दी जा रही थी। जिसके बाद नाबालिक ने आत्महत्या कर लिया था, जिसके बाद पीड़िता के परिजनों ने 2017 में सबौर थाने में मामला दर्ज कराया था।

 इस मामले में 6 लोगों ने लड़की के पक्ष में गवाही दी थी। जिसके बाद दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद एडीजे-6 ने 21 दिसंबर 2020 को आरोपी रोहित कुमार और मृत्युंजय कुमार को दोषी ठहराया था और आज सजा के बिंदु पर फैसला देते हुए पॉक्सो कोर्ट ने दोनों आरोपियों को  आजीवन कारावास और 25- 25 हजारों रुपए का आर्थिक दंड लगाया, जो पीड़िता के परिजन को दिया जाएगा, साथ ही लोक अभियोजक ने बताया कि 5 लाख रुपया सरकार के द्वारा भी पीड़िता के परिजन को दिया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News