चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन, योगी और मायावती के चुनाव प्रचार पर लगाया बैन

चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन, योगी और मायावती के चुनाव प्रचार पर लगाया बैन

विवादित बयानों को लेकर चुनाव आयोग ने सख्त कदम उठाया है। चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के प्रचार करने पर रोक लगा दी है। चुनाव आयोग की ये रोक 16 अप्रैल से शुरू होगी। जो कि योगी आदित्यनाथ के लिए 72 घंटे और मायावती के लिए 48 घंटे तक लागू रहेगी। दोनों नेताओं पर विवादित बयान को लेकर कार्रवाई की गई है।

बता दें कि योगी आदित्यनाथ और मायावती ना ही कोई रैली को संबोधित कर पाएंगे, ना ही सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर पाएंगे और ना ही किसी को इंटरव्यू दे पाएंगे. चुनाव आयोग का एक्शन 16 अप्रैल सुबह 6 बजे शुरू होगा.

चुनाव आयोग के फैसले से साफ है कि योगी आदित्यनाथ 16, 17 और 18 अप्रैल को कोई प्रचार नहीं कर पाएंगे. इसके अलावा मायावती 16 और 17 अप्रैल को कोई चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगी. बता दें कि इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भी चुनाव आयोग पर टिपण्णी  की थी।

क्या कहा था योगी ने

बता दें कि मेरठ में चुनाव प्रचार के दौरान 9 अप्रैल को सीएम योगी आदित्यनाथ के दिए भाषण पर आयोग ने नोटिस भेजा था। बता दें कि चुनाव प्रचार के दौरान आदित्यनाथ ने कहा था, 'एसपी-बीएसपी को अली में यकीन है। हमें भी यकीन है बजरंगबली में।'

क्या कहा था मायावती ने

बीएसपी प्रमुख मायावती ने 7 अप्रैल को देवबंद में विवादित बयान देते हुए कहा था - मैं मुस्लिम समाज के लोगों को कहना चाहती हूं कि आपको वोट बांटना नहीं है बल्कि एकतरफा वोट देकर गठबंधन को कामयाब बनाना है। अब तो समाजवादी पार्टी और जाट भाई भी मैदान में उतर चुके हैं।



Find Us on Facebook

Trending News