संजय जायसवाल के आरोपों को चुनाव आयोग ने किया खारिज, कहा- DM-SP ने नहीं की कोई लापरवाही

संजय जायसवाल के आरोपों को चुनाव आयोग ने किया खारिज, कहा- DM-SP ने नहीं की कोई लापरवाही

PATNA : पश्चिम चंपारण के बीजेपी प्रत्याशी संजय जायसवाल के आरोपों को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है। आयोग ने कहा है कि मोतिहारी के एसपी और डीएम ने कोई लापरवाही नहीं बरती है।

 बिहार के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि पश्चिम चंपारण लोकसभा क्षेत्र के नरकटिया विधानसभा अंतर्गत बूथ संख्या एक सौ 162,163 पर वोटिंग के दौरान हंगामा हुआ था। इसके बाद संजय जायसवाल जब वहां पहुंचे तो स्थानीय लोगों ने विरोध किया था। इस मामले में सांसद संजय जायसवाल की तरफ से भी प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। वहीं गांव वालों ने भी संजय जायसवाल पर और उनके समर्थकों पर केस दर्ज कराया है। वहीं तीसरा केस प्रशासन की तरफ से भी दर्ज होने जा रहा है।

 उन्होंने कहा कि बीजेपी प्रत्याशी संजय जायसवाल के जो आरोप हैं वह निरर्थक हैं। मोतिहारी के एसपी और डीएम ने कहीं कोई लापरवाही नहीं बरती है ।घटना की सूचना मिलने के बाद वहां तत्काल एसडीओ और डीएसपी सहित कई अन्य अधिकारी और पुलिसकर्मी पहुंचे और सांसद संजय जयसवाल को सुरक्षित बाहर निकाला है ।

संजय सिंह ने कहा कि डॉ संजय जायसवाल की तरफ से चुनाव आयोग में अब तक कोई शिकायत नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि हमने वहां के डीएम और एसपी से भी इस संबंध में कोई जांच रिपोर्ट नहीं मांगी है। जो कुछ भी हंगामा हुआ उस मामले में अब तक दो प्राथमिकी दर्ज हो चुकी है जबकि प्रशासन की तरफ से तीसरा केस दर्ज कराने की कार्रवाई जारी है।

आपको बता दें कि कल वोटिंग के दौरान  नरकटिया के बूथ पर बीजेपी प्रत्याशी संजय जायसवाल और ग्रामीणों के बीच भिड़ंत हुई थी। ग्रामीणों ने संजय जायसवाल पर हमला कर दिया था और उनकी गाड़ी में तोड़फोड़ की थी।करीब 3 घंटे के बाद संजय जायसवाल को वहां से निकाला जा सका था। बीजेपी प्रत्याशी ने आज खुलेआम आरोप लगाया है कि  मोतिहारी SP और DM उनकी जान लेना चाहते थे। क्योंकि बार बार फ़ोन करने के बाद भी वे 3 घंटे तक घटना स्थल पर नहीं पहुँचे।

Find Us on Facebook

Trending News