नीरव मोदी पर ED की बड़ी कार्रवाई, मनी लॉन्ड्रिंग केस में 250 करोड़ से अधिक की संपत्ति की जब्त

नीरव मोदी पर ED की बड़ी कार्रवाई, मनी लॉन्ड्रिंग केस में 250 करोड़ से अधिक की संपत्ति की जब्त

पटना. प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार को भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में कार्रवाई करते हुए नीरव मोदी की 250 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति जब्त की है। मिली जानकारी के अनुसार ईडी द्वारा जब्त की गयी ये संपत्तियां हॉन्गकॉन्ग में हैं। इसमें ज्वेलरी और बैंकों में जमा पैसे शामिल है।

बताया जा रहा है कि ईडी को जांच के दौरान नीरव मोदी ग्रुप की कंपनियों की कुछ संपत्तियां हांगकांग में होने की जानकारी मिली थी। इस संपत्ति की पहचान प्राइवेट वॉल्ट में रखे हीरे और ज्वैलरी के अलावा कुछ बैंक खातों में मौजूद रकम के रूप में हुई थी। इस संपत्ति को तत्काल प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत प्रॉविजनली अटैच कर लिया गया था। अब इस संपत्ति को पूरी तरह जब्त कर लिया गया है।

नीरव मोदी अभी ब्रिटेन की जेल में बंद हैं। भारत सरकार काफी समय से नीरव मोदी के प्रत्यपर्ण की कोशिश कर रही थी। इस संबंध में चल रही कानूनी लड़ाई में हार चुके हैं। पीएनबी घोटाले में आर्थिक अपराध और धोखाधड़ी को लेकर सीबीआई जांच कर रही है, जबकि ईडी इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल से जांच कर रही है।

नीरव मोदी ने अपने अंकल मेहुल चौकसी के साथ मिलकर पीएनबी में ऋण पत्रों के माध्यम से हेरा-फेरी की थी। नीरव मोदी गीताजंलि ब्रांड नाम के तहत हीरे का कारोबार करते रहे हैं। नीरव मोदी के अलावा शराब व्यवसायी विजय माल्या, आईपीएल के फाउंडर ललित मोदी भी इस समय में ब्रिटेन में हैं। भारत सरकार इन्हें भी भगौड़ा करार दे चुकी है।

Find Us on Facebook

Trending News