CM नीतीश के सख्त फरमान का असरः BJP कोटे के 'मंत्री' कल भी नहीं जायेंगे गांव, फिर भी 20 हजार गांवों में टूटेगा लॉकडाउन!

CM नीतीश के सख्त फरमान का असरः BJP कोटे के 'मंत्री' कल भी नहीं जायेंगे गांव, फिर भी 20 हजार गांवों में टूटेगा लॉकडाउन!

PATNA: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सात साल का कार्यकाल पूरा होने पर बिहार बीजेपी की बड़ी तैयारी है। 30 मई को भाजपा के नेता 20 हजार गांवों में जायेंगे।यानि कल बीजेपी के नेता-विधायक लॉकडाउन तोड़ेंगे। लॉकडाउन के बीच पार्टी के नेता कल यानि 30 मई को 20 हजार गांवों में जाकर लोगों की मदद करेंगे। पार्टी नेतृत्व ने विधायकों-विधान पार्षदों और सांसदों को सेवा ही संगठन कार्यक्रम के तहत 2-2 गांवों में जाकर कोरोना संकट में लोगों की मदद करने को कहा है। हालांकि सीएम नीतीश के सख्त फरमान की वजह से मंत्री अपने क्षेत्र में नहीं जायेंगे। पार्टी नेतृत्व ने बीजेपी कोटे के मंत्रियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से गांव के कार्यक्रम मेंं जुड़ने को कहा है। 

बीजेपी की बड़ी तैयारी

बिहार बीजेपी के अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने कहा कि 30 मई को केंद्र में एनडीए सरकार का सात साल का कार्यकाल पूरा हो रहा है। कोरोना के इस संकट में पार्टी नेतृत्व ने यह निर्णय लिया है कि वह सेवा ही संगठन के माध्यम से 20 हजार गांवों में सेवा के कार्य करेगी। मास्क,सेनेटाइजर से लेकर राशन बांटने का काम करेगी। गांव में स्वास्थ्य जांच भी करेंगे। पार्टी के कार्यकर्ता पीएम मोदी के सात साल के कार्यकाल के उपलक्ष्य में ये सब काम करेंगे। इसके साथ ही सभी बूथों पर मेरा बूथ कोरोना मुक्त के तहत हमारे कार्यकर्ता काम करेंगे। संजय जायसवाल ने बताया कि जहां कल कार्यक्रम नहीं होंगे वहां 31 मई को सेवा ही संगठन का कार्यक्रम किया जा सकता है। 

सीएम नीतीश ने मंत्रियों के भ्रमण पर लगा दी है रोक

बता दें कि सीएम नीतीश ने अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों को कोरोना के इस संकट में बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी है। बजाप्ता सरकार ने 21 मई को आदेश निकालकर लॉकडाउन में मंत्रियों के भ्रमण पर रोक लगा दी है। मंत्रियों के क्षेत्र में घूमने से रोक पर नीतीश की सहयोगी पार्टी बीजेपी काफी खफा है। कुछ दिन पहले बीजेपी नेतृत्व द्वारा सेवा ही संगठन कार्यक्रम की सफलता को लेकर आयोजित बैठक में कई विधायकों ने सीएम नीतीश के इस निर्णय पर आपत्ति जताई थी । भाजपा विधायकों ने नेतृत्व से पूछा था कि क्या इस तरह के निर्णय में बीजेपी कोटे के दोनों डिप्टी सीएम से राय ली गई थी ? मामले को भांपते हुए प्रदेश नेतृत्व ने कहा था कि इस प्रकरण की सूचना केंद्रीय नेतृत्व को दे दी गई है। हालांकि नेतृत्व ने यह भी कहा था कि मामले को तूल देने की जरूरत नहीं। अब पीएम मोदी के सात साल का कार्यकाल पूरा होने पर बीजेपी ने बड़ी तैयारी की है। जानकार बताते हैं कि पार्टी के नेता अगल गांव जायेंगे और कार्यक्रम करेंगे तो लॉकडाउन के नियम तो टूटेंगे हीं। 

Find Us on Facebook

Trending News