मुज़फ़्फ़रपुर में चुनाव आयोग की टीम ने की समीक्षा बैठक, 12 जिलों के आलाधिकारी हुए शामिल

मुज़फ़्फ़रपुर में चुनाव आयोग की टीम ने की समीक्षा बैठक, 12 जिलों के आलाधिकारी हुए शामिल

Muzaffarpur : दिल्ली से आई चुनाव आयोग की टीम ने पटना से पहले मुजफ्फरपुर में बिहार विधानसभाचुनाव सम्बंधित तैयारियों की समीक्षाबैठक की। शहर के ब्लू डायमंड होटल में हुई इस बैठक में भारत निर्वाचन आयोग के उप निर्वाचन आयुक्त चंद्र भूषण कुमार, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बिहार एचआर श्रीनिवास, शरद चंद्र भारतीय सूचना सेवा, पंकज श्रीवास्तव  निदेशक-व्यय( राजस्व सेवा) के द्वारा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर की जा रही तैयारियों की समीक्षा की गई। 

वहीं इस बैठक में  तिरहुत,कोशी और  दरभंगा प्रमंडल के सभी 12 जिलों के सभी जिला निर्वाचन पदाधिकारी, पुलिस अधीक्षक,एडीजी,मुख्यालय जितेंद्र कुमार  के साथ तीनो प्रमंडल के प्रमंडलीय आयुक्त,आईजी उपस्थित थे।

बैठक में विधानसभा चुनाव से जुड़े सभी बिंदुओं की समीक्षा की गई एवं आवश्यक निर्देश दिए गए। वीवीपैट/ ईवीएम का एफसीएल, ईवीएम की सुरक्षा,मतदान केंद्रों, सभी बूथों  पर उपलब्ध कराये जानेवाली सुविधाओं का आकलन, सहायक मतदान केंद्र, मतदाता जागरूकता कार्यक्रम सहित विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा व कार्य की प्रगति की समीक्षा की गई। सभी जिलों में पीडब्ल्यूडी वोटर्सकी संख्या की जानकारी आयोग द्वारा ली गई। 

बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि दिव्यांग मतदाताओं की सहभागिता सौ फीसदी सुनिश्चित हो इस बाबत प्रभावकारी कार्ययोजना का क्रियान्वयन करना सुनिश्चित की जाय। मूल मतदान केंद्र और इससे संबंधित सहायक मतदान केन्द्रों की भी बारी-बारी से समीक्षा की गई। 

कोविड-19 के परिपेक्ष्य में मतदान केंद्रों पर क्राउड मैनेजमेंटके लिए  बनाई गई प्लानिंग  के बारे में  सभी डीईओ से जानकारी प्राप्त की गईऔर निर्देश दिया गया कि आयोग के द्वारा  कोविड-19 से संबंधित  जारी किए गए विस्तृत दिशा -निर्देश का अनुपालन किया जाय। मतदान केंद्रों पर बनाए जाने वाले हेल्पडेस्क  के बारे में भी  निर्देशित किया गया। 

चुनाव आयोग की टीम की ओर से निर्देश दिया गया कि जिन भवनों परबूथों की संख्या अधिक है वहां  एग्जिट एवं एंट्री प्वाइंट बनाना सुनिश्चित किया जाए। कोविड-19 को लेकर जिला स्तरीय नोडल पदाधिकारी तथा  विधानसभा वार नोडल पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति  की भी जानकारी  प्राप्त की गई। स्वीप के तहत निर्देश दिया गया कि मतदाता जागरूकता को लेकर की जाने वाली गतिविधियों को सोशल मीडिया पर पोस्ट करें।बीएलओ,आंगनवाड़ी सेविका/ सहायिका, आशा, जीविका इत्यादि को मतदाता जागरूकता के साथ  कोविड-19 को लेकर जागरूकता अभियान में भी इन्वॉल्व किया जाय।

बैठक में प्रत्येक जिला से मतदाता सूची में आगंतुक श्रमिकों के निबंधन के बारे में जिलावार जानकारी प्राप्त की गई ।मतदान केंद्रों पर ए एम एफ की सुविधा की जानकारी भी प्राप्त की गई। बैठक में सभी जिला निर्वाचन पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा गया कि कोविड-19 को लेकर की जा रही व्यवस्था से आम जनमानस को अवगत कराना सुनिश्चित की जाय साथ ही इस संबंध में विशेष प्रचार- प्रसार करावें। 

वहीं बैठक में मतदान कर्मियों की उपलब्धता, पी०ओ P1 ,P2,p3 ,पीसीसीपी,सेक्टर जोनल ,सुपर जोनल ,माइक्रो ऑब्जर्वर के संबंध में सभी जिलों से जानकारी प्राप्त की गई। संवेदनशील बूथों,जेंडर अनुपात,प्रशिक्षण, चुनाव को लेकर परिवहन व्यवस्था.व्यय अनुश्रवण ,एमसीएमसी,   मतगणना केंद्र की व्यवस्था, आदर्श आचार संहिता, कम्युनिकेशन प्लान इत्यादि के साथ-साथ विधि व्यवस्था, लंबित वारंट एवं कुर्की का निष्पादन इत्यादि की भी समीक्षा की गई एवं आवश्यक निर्देश दिए गए।

बता दें कल यानि  15 सितंबर को आयोग की टीम भागलपुर में समाहरणालय स्थित समीक्षा भवन में 9.15 से 1.00 बजे तक और बोधगया (गया) में होटल रॉयल रेजिडेंसी में 2.45 बजे से  4.30 बजे तक समीक्षा बैठक करेगी। भागलपुर में आयोजित बैठक में भागलपुर, बांका, मुंगेर, लखीसराय, शेखपुरा, जमुई, खगड़िया, बेगूसराय, पूर्णियां, अररिया, किशनगंज एवं कटिहार जिलों की चुनाव तैयारियों की समीक्षा की जाएगी। जबकि बोधगया में आयोजित बैठक में गया, जहानाबाद, अरवल, नवादा, औरंगाबाद, कैमूर एवं रोहतास जिलों की चुनाव तैयारियों की समीक्षा की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News