बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • पटना के मसौढ़ी में जमीन खरीद बिक्री डेवलर्स कंपनी के गार्ड की हत्‍या, खेत में मिला शव
  • पटना के मसौढ़ी में जमीन खरीद बिक्री डेवलर्स कंपनी के गार्ड की हत्‍या, खेत में मिला शव

  • प्राइवेट स्कूलों की तरह सरकारी विद्यालयों के छात्रों को भी मिलेगा स्कूल बैग, वॉटर बोतल, जूते-मोजे, केके पाठक ने कर दी घोषणा
  • प्राइवेट स्कूलों की तरह सरकारी विद्यालयों के छात्रों को भी मिलेगा स्कूल बैग, वॉटर बोतल, जूते-मोजे, केके पाठक

  • बुलेट की चाहत में पत्नी की गला घोंटकर कर दी हत्या, एक साल पहले शादी कर ससुराल आई थी विवाहिता
  • बुलेट की चाहत में पत्नी की गला घोंटकर कर दी हत्या, एक साल पहले शादी कर ससुराल आई

  • बांका में बाइक की टक्कर से सड़क पार कर रहे एक व्यक्ति की हुई मौत :परिजनो में मचा कोहराम
  • बांका में बाइक की टक्कर से सड़क पार कर रहे एक व्यक्ति की हुई मौत :परिजनो में मचा

  • नवादा में ऐतिहासिक होगी तेजस्वी की यात्रा, दो लाख से अधिक लोगों के शामिल का अनुमान
  • नवादा में ऐतिहासिक होगी तेजस्वी की यात्रा, दो लाख से अधिक लोगों के शामिल का अनुमान

  • मुजफ्फरपुर पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय बाइक चोर गिरोह का किया उद्भेदन, 6 चोरों को आधा दर्जन चोंरी की बाइक के साथ किया गिरफ्तार
  • मुजफ्फरपुर पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय बाइक चोर गिरोह का किया उद्भेदन, 6 चोरों को आधा दर्जन चोंरी की बाइक

  • लोकसभा चुनाव को लेकर मुंगेर पुलिस ने शुरू की वारंटियों की धड़पकड़, एक रात में 55 आरोपियों को जेल में डाला
  • लोकसभा चुनाव को लेकर मुंगेर पुलिस ने शुरू की वारंटियों की धड़पकड़, एक रात में 55 आरोपियों को

  • गंगा समेत अन्य नदियों को निर्मल करने और मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए रिवर रेचिंग कार्यक्रम,4-4 लाख मछली के बच्चे नदी में डाले गए
  • गंगा समेत अन्य नदियों को निर्मल करने और मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए रिवर रेचिंग कार्यक्रम,4-4

  • स्कूल गए 14 वर्षीय छात्र की पिटाई से हुई मौत, परिजनों ने टीचर पर लगाया बेरहमी से पिटने का आरोप
  • स्कूल गए 14 वर्षीय छात्र की पिटाई से हुई मौत, परिजनों ने टीचर पर लगाया बेरहमी से पिटने

  • बिहार क्रिकेट एसोसिएसन के नाम से फर्जीवाड़े में शामिल रहे ओम प्रकाश तिवार को पुलिस  ने किया डिटेन
  • बिहार क्रिकेट एसोसिएसन के नाम से फर्जीवाड़े में शामिल रहे ओम प्रकाश तिवार को पुलिस ने किया

सवालों के घेरे में चुनाव आयुक्त की नियुक्ति, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा गंभीर सवाल, 24 घंटे में नियुक्ति पर विवाद

सवालों के घेरे में चुनाव आयुक्त की नियुक्ति, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा गंभीर सवाल, 24 घंटे में नियुक्ति पर विवाद

DESK. अरुण गोयल की चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्ति विवादों में घिर गई है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार की ओर से पेश अटॉर्नी जनरल से कई सवाल किए। विशेषकर नियुक्ति प्रक्रिया में पारदर्शिता को लेकर शीर्ष अदालत ने घेरा है। कोर्ट ने पूछा कि आप कैसे मात्र 24 घंटे में नियुक्ति की प्रक्रिया को पूर्ण कर सकते हैं। नियुक्ति की प्रक्रिया को संदेह के घेरे में रखते हैं कई प्रकार के सवाल किए गए।

दरअसल, चुनाव आयुक्तों की नियुक्ति प्रक्रिया को लेकर सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को फिर सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से मुख्य चुनाव आयुक्त और चुनाव आयुक्तों की नियुक्तियों के लिए एक स्वतंत्र चयन पैनल की मांग करने वाली याचिकाओं के एक बैच पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले हफ्ते पूर्व आईएएस अधिकारी अरुण गोयल की नए चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्ति से संबंधित फाइलों को पढ़ा और केंद्र से फाइलों के फास्ट-ट्रैक क्लीयरेंस के बारे में सवाल किया।

सुप्रीम कोर्ट ने अरुण गोयल की चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्ति पर केंद्र का प्रतिनिधित्व कर रहे अटॉर्नी जनरल आर वेंकटरमणी से सवाल किया और कहा कि इतनी जल्दी क्या थी और इतनी तेज गति से नियुक्ति क्यों की गई। न्यायमूर्ति के.एम. की अध्यक्षता वाली पांच-न्यायाधीशों की संविधान पीठ जोसेफ ने गोयल की नियुक्ति पर फाइल की जांच करने के बाद कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) के डेटाबेस से चार नामों को शॉर्टलिस्ट करने में कानून मंत्री द्वारा अपनाए गए मानदंडों पर भी सवाल उठाया।


बेंच ने एजी पर सवालों की झड़ी लगा दी, जिस पर उन्होंने तर्क दिया कि अदालत को नियुक्ति पर मिनी-ट्रायल नहीं करना चाहिए, हालांकि बेंच ने उनसे यह बताने के लिए कहा कि इतनी जल्दबाजी में नियुक्ति क्यों की गई। पीठ ने पूछा "उसी दिन प्रक्रिया, उसी दिन निकासी, उसी दिन नियुक्ति, बिजली की गति, किस तरह का मूल्यांकन?"न्यायमूर्ति जोसेफ ने डीओपीटी के डेटाबेस से चार नामों को चुनने में कानून मंत्री द्वारा अपनाए गए मानदंडों पर विशेष रूप से एजी से सवाल किया।