मोतिहारी में बिजली बिल वसूली में दो करोड़ से अधिक का गबन, पुलिस थाने में FIR दर्ज

मोतिहारी में बिजली बिल वसूली में दो करोड़ से अधिक का गबन, पुलिस थाने में FIR दर्ज

मोतिहारी. बिजली विभाग में दो करोड़ से अधिक राशि का गबन का मामला प्रकाश में आया है। मामला संज्ञान में आते ही हड़कंप मच गया। मामले में बिद्युत अवर प्रमंडल के सहायक अभियंता सुनील रंजन कुमार ने रक्सौल थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी है। प्राथमिकी में 2 करोड़ 2 लाख 29 हज़ार 846 रुपये गबन का मामला दर्ज कराया गया है। मामला रक्सौल अवर प्रमंडल में उपभोक्ताओं से बिल की पूरी राशि वसूली कर पूरी राशि जमा नहीं कर गबन करने का मामला है। गड़बड़ी का खुलासा लेखा पदाधिकारी की जांच में हुआ है। जांच के बाद विभाग में हड़कंप मच गया है।

रक्सौल विद्युत अवर प्रमंडल में उपभोक्तओं की बिजली बिल वसूली कर बिल का रुपये जमा नहीं करके दो करोड़ से अधिक राशि गबन करने को लेकर रक्सौल थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। FIR में एक निजी कंपनी के कर्मी संतोष कुमार को आरोपित किया गया है। वहीं अन्य कर्मियों की भी संलिप्तता की आशंका है।सहायक अभियंता ने बताया कि लेखा अधिकारी की जांच में पाया गया है कि उपभोक्ताओं से जितनी राशि की वसूली की गई है। उतनी राशि जमा नहीं की गयी है। वर्ष 2019-2021 के बीच में यह राशि गबन की गयी। यही नहीं राजस्व संकलन की मनी रसीद के दूसरी और तीसरी प्रति में कम राशि जमा की गयी है। रक्सौल इंस्पेक्टर के अनुसार आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर करवाई की जा रही है।

वहीं कार्यपालक अभियंता प्रदीप कुमार सुमन ने बताया कि मेरे पदस्थापन के बाद राजस्व संबंधी जांच करायी गई। इसके बाद इसका खुलासा हुआ। इसको लेकर मेरे आदेश पर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी। वहीं विभागीय सूत्रों के अनुसार आरोपी कर्मी तत्कालीन विद्युत सहायक अभियंता राजीव मिश्र व चन्दकान्त नायक के कार्यकाल में राजस्व वसूली का कार्य करता था। मामले में कई विद्युत आपूर्ति प्रमंडल के अधिकारियों की संलिप्ता की आशंका जतायी गई है।

Find Us on Facebook

Trending News