अब और बेचैन होगा दुश्मन, भारत की सैन्य शक्ति में होने वाला है बड़ा इजाफा

अब और बेचैन होगा दुश्मन, भारत की सैन्य शक्ति में होने वाला है बड़ा इजाफा

NEWS4NATION DESK : अब दुश्मनों की बेचैनी और बढ़ने वाली है।  क्योंकि भारत की सैन्य शक्ति में जल्द ही बड़ा इजाफा होने वाला है। भारत-पाक तनाव के बीच फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एविएशन द्वारा निर्मित राफेल का पहला विमान 20 सितंबर को भारत को मिलने वाला है। पहलेलड़ाकू राफेल विमान को रिसीव करने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भारतीय वायुसेना के चीफ बीएस धनोआ फ्रांस जाएंगे। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, 20 सितंबर को राजनाथ सिंह और बीएस धनोआ की मौजूदगी में राफेल जेट विमान भारतीय वायुसेना को सौंपा दिया जाएगा। भारतीय वायुसेना के मुताबिक, फ्रांस के अधिकारी वहां रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वायुसेना चीफ बीएस धनोआ और कई रक्षा अधिकारियों की मौजूदगी में राफेल विमान भारत को देंगे। 

दरअसल, सितंबर 2016 में भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल विमान खरीदने को लेकर डील हुई थी। इन विमानों की कीमत 7.87 बिलियन यूरो तय की गई थी।

गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना राफेल जेट विमान को उड़ाने के लिए 24 पायलटों इसके लिए ट्रेनिंग देगा. इसके बाद राफेल विमान पहली बार देश की सुरक्षा के लिए उड़ाने को तैयार होंगे। सभी पायलट तीन बैचों में ट्रेनिंग लेंगे।

बताया जा रहा है कि भारतीय वायुसेना राफेल विमान की एक-एक टुकड़ी को हरियाणा के अंबाला और पश्चिम बंगाल के हाशिमारा में अपने एयरबेस पर बनाने जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News