इंजीनियर काम करवा रहा था और कम्पनी के ही हाइवा ने कुचल कर मार दिया

इंजीनियर काम करवा रहा था और कम्पनी के ही हाइवा ने कुचल कर मार दिया

News4Nation: मोकामा बख्तियारपुर फोर लेन सड़क निर्माण कंपनी में कार्यरत इंजीनियर उज्जवल राज की मौत के मामले में निर्माण कंपनी की बड़ी लापरवाही उजागर हुई है। सरहन टाल के जिस पॉइंट पर इंजीनियर से काम लिया जा रहा था, वहां अचानक कंपनी की हाईवा गाड़ी द्वारा इंजीनियर को कुचल दिया जाना कई सवाल खड़े कर रहा है। 

इंजीनियर के अलावा और भी कई लोग वहां पर मौजूद थे लेकिन किसी को चोट तक नहीं आई। उज्जवल राज ही अकेले दुर्घटना की चपेट में इस कदर आया कि मौके पर ही उसकी मौत हो गई। हैरानी इस बात की है कि फोरलेन सड़क निर्माण कंपनी की हाइवा गाड़ी से घटना हुई और चालक टना के बाद भाग निकला लेकिन कंपनी प्रबंधन इस मामले में रहस्यमय तरीके से चुप्पी साधे हुए है। 

हैरानी इस बात की है कि आखिर जब कंपनी के इंजीनियर की मौत कंपनी के निर्माण स्थल पर ही हो गई तो आखिर किस परिस्थिति में हाईवा चालक को भागने दिया गया। चालक की पहचान झारखंड के हजारीबाग निवासी दयानंद यादव के तौर पर की गई है। 

परिजनों की मानें तो कंपनी द्वारा कोई मुकम्मल जानकारी भी घटना के बाद नहीं दी गई थी। इंजीनियर की मौत घटनास्थल पर ही हो जाने के बावजूद काफी घंटे बाद तक इलाज के लिए भेजे जाने की बात कही जाती रही। परिजनों में इसी बात को लेकर ज्यादा नाराजगी थी। मोकामा बख्तियारपुर फोर लेन सड़क का निर्माण कार्य चड्ढा एंड चड्ढा कंपनी द्वारा कराया जा रहा है। सीएनसी कंपनी के प्रोजेक्ट साइट पर ही इंजीनियर की मौत के बाद कंपनी के कई अभियंताओं और कामगारों में भी प्रबंधन के प्रति खासा रोष था।

Find Us on Facebook

Trending News