ग्लोबल आतंकी घोषित किए जाने के बाद भी मसूद अजहर को भारत नहीं डाल सकता प्रतिबंधित लिस्ट में, जानिए क्या है वजह

ग्लोबल आतंकी घोषित किए जाने के बाद भी मसूद अजहर को भारत नहीं डाल सकता प्रतिबंधित लिस्ट में, जानिए क्या है वजह

NEWS4NATION DESK : यूएनएसी से ग्लोबल आतंकी घोषित किये जाने के बाद भी भारत अभी मसूद अजहर को अपने प्रतिबंधित लिस्ट में नहीं डाल सकता है। 

दरअसल नियमों के मुताबिक, भारत सिर्फ किसी संगठन को आतंकी घोषित कर अपनी प्रतिबंधित लिस्ट में डाल सकता है, न कि किसी व्यक्ति को। ईटी को मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार अनलॉफुल ऐक्टिविटीज (प्रिवेंशन) ऐक्ट (यूएपीए) में संशोधन का प्रस्ताव लाई है, जो किसी व्यक्ति को आतंकी को घोषित करने की इजाजत देता है। यह प्रस्ताव पिछले एक साल से कैबिनेट सेक्रेटरी के पास पड़ा है और अब अगली सरकार के गठन के बाद इसे दोबारा उठाया जाएगा।

बता दें कि भारत के उलट अमेरिका का स्टेट और ट्रेजरी डिपार्टमेंट्स किसी भी व्यक्ति को आतंकी घोषित कर सकता है। उस पर ट्रैवल बैन लगा सकता है और उसकी संपत्तियों को जब्त कर सकता है। इसी तरह यूरोपीय यूनियन भी किसी भी आतंकी गतिविधियों से जुड़े किसी भी व्यक्ति, समूह या एंटिटी को अपनी सूची में डाल सकता है, जिससे उनके खिलाफ प्रतिबंधित उपायों को लागू करना सुनिश्चित किया जा सके।
 
 अमेरिका ने पिछले साल हिज्बुल मुजाहिदीन के सरगना सैयद सलाहुद्दीन और कर्नाटक के भटकल में इस्लामिक स्टेट के लिए युवाओं को भर्ती करने वाले शफी अरमार को अपनी ग्लोबल आतंकियों की सूची में डाला था। 

Find Us on Facebook

Trending News