कोरोना के कारण प्रशासन के रोक के बाद भी छठ के महाकेंद्र में उमड़ा छठ व्रतियों का सैलाब, देव में दस लाख व्रतियों ने सूर्य कुंड में किया स्नान

कोरोना के कारण प्रशासन के रोक के बाद भी छठ के महाकेंद्र में उमड़ा छठ व्रतियों का सैलाब, देव में दस लाख व्रतियों ने सूर्य कुंड में किया स्नान

AURANGABAD : औरंगाबाद जिले के ऐतिहासिक, धार्मिक और पौराणिक स्थल देव में कार्तिक छठ व्रत के अवसर पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी है । इस बार छठ मेला का आयोजन नहीं किये जाने के बावजूद देव के पौराणिक सूर्य कुंड पर आज  10 लाख से अधिक व्रतधारियों - श्रद्धालुओं ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य अर्पित किया । देव में साफ तौर पर प्रशासनिक आदेश पर आस्था भारी पड़ता दिखा ।इस अवसर पर देव के सदियों पुराने सूर्य मंदिर को अत्यंत आकर्षक ढंग से सजाया गया है और आज सुबह से ही यहां लोग कतारबद्ध होकर भगवान भास्कर की पूजा अर्चना कर रहे हैं । देव   में छठ व्रत के अवसर पर  12 बजे दिन के बाद से ही अर्ध्य देने का सिलसिला शुरू हो जाता है जो लगातार जारी  रहता है।

श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के मद्देनजर जिला प्रशासन की ओर से पेयजल , बिजली , साफ - सफाई, सुरक्षा तथा अन्य आवश्यक सुविधाओं के बेहतर इंतजाम किए गए हैं। वहीं दो साल पहले मचे भगदड़ को देखते हुए जिला प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे।  चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवानों भारत स्काउट एंड गाइड के कैडेटों को तैनात किया गया है । सूर्य कुंड में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों की भी प्रतिनियुक्ति की गई है।

लोक मान्यता है कि देव छठ व्रत करने तथा  त्रेतायुगीन सूर्य मंदिर में पूजा अर्चना करने से श्रद्धालुओं की मनोवांछित कामनाएं पूरी होती हैं और इस मौके पर यहां भगवान भास्कर की साक्षात उपस्थिति की रोमांचक अनुभूति होती है । जिले में सोन नद के किनारे बारुन , सोननगर , नवनेर दाउदनगर के अलावा अंबा दोमुहान , नबीनगर आदि स्थानों पर भी लाखों की संख्या में व्रतियों ने भगवान सूर्य को आज शाम प्रथम अर्घ्य अर्पित किया ।

Find Us on Facebook

Trending News