BIHAR POLICE : कोर्ट के आदेश के बाद भी पुलिस ने दर्ज नहीं किया एफआईआर, पीड़ित ने एसपी से लगायी गुहार

BIHAR POLICE : कोर्ट के आदेश के बाद भी पुलिस ने दर्ज नहीं किया एफआईआर, पीड़ित ने एसपी से लगायी गुहार

BETTIAH : जिले के शनिचरी थाना के बरवा ओझा निवासी मोहम्मद मंजूर आलम ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी बेतिया के न्यायालय में घटना के एक माह बाद गांव के ही 4 चार लोगों पर परिवाद दायर किया है. इस परिवाद में उन्होंने साजिश के तहत उनके पुत्र दिलशाद आलम उर्फ गोलू की हत्या कर पास के चवर में फेंक देने का आरोप लगाया है. परिवाद के आलोक में न्यायालय द्वारा थाने में एफ आई आर दर्ज कर जांच करने का निर्देश दिया गया. लेकिन आज करीब 2 माह बाद भी इस संबंध में थाने में कोई एफ आई आर दर्ज नहीं की जा सकी है. 

इस संबंध में मोहम्मद मंजूर आलम बेतिया पुलिस अधीक्षक एवं सदर एसडीपीओ को एक आवेदन देकर पुलिस कार्यालय का चक्कर लगा रहा है. लेकिन समाचार लिखे जाने तक इस संबंध में कोई भी कार्रवाई नहीं की जा सकी. बताते  चलें कि 5 अगस्त को पास के चंवर में उनके पुत्र दिलशाद आलम उर्फ गोलू की शव को पुलिस ने बरामद किया था. पुलिस ने इस संबंध में एक यूडी केस दर्ज कर मामले की मात्र खानापूरी कर लिया. 

जबकि इस मामले को लेकर मोहम्मद मंजूर आलम ने मुर्तुजा अंसारी,भोला अंसारी,एजाज हुसैन एवं रियाज हुसैन को अभियुक्त बनाया है. बताया जाता है मोहम्मद मंजूर आलम विदेश  में मजदूरी करने गया था. पुत्र की मौत की सूचना मिलने पर वह घर आया है. वही पुलिस की एक तरफा रवैया से अब धीरे धीरे पब्लिक का भरोसा एक बार फिर टूटने लगा है. 

बेतिया से आशीष कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News