पलक झपकते ही सब खत्म : पति पत्नी ने अबोध के साथ ट्रेन के आगे कूदकर किया आत्महत्या, बालू बंदी के बाद गरीबी से जूझ रहा था परिवार

 पलक झपकते ही सब खत्म : पति पत्नी ने अबोध के साथ ट्रेन के आगे कूदकर किया आत्महत्या, बालू बंदी के बाद गरीबी से जूझ रहा था परिवार

CHHAPRA : बिहार में परिवार सहित आत्महत्या करने की घटनाएं लगातार सामने आ रही है। नवादा में एक माह पहले कर्ज के कारण एक परिवार के छह लोगों ने आत्महत्या कर ली थी। बीते सोमवार को दरभंगा में एक महिला ने अपने तीन छोटे बच्चों संग आत्महत्या करने की कोशिश की थी। अब ताजा मामला छपरा सोनपुर से सामने आया है, जहां एक दंपती ने अपने दूधमुंहे बच्चे संग ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर लिया। यह सब इतनी तेजी से हुआ कि स्टेशन पर मौजूद लोगों को कुछ समझ पाने का मौका भी नहीं मिला।

यह दर्दनाक घटना छपरा सोनपुर रेलखंड गोल्डन गंज स्टेशन पर हुआ। यहां मौजूद लोगों ने बताया कि  अहले सुबह दुधमुंहे बच्चा सहित पति पत्नी ने प्लेटफार्म संख्या दो पर आकर यात्री विश्राम कुर्सी पर बैठे हुए थे । स्टेशन पर टहलने वाले व्यक्ति और स्टेशन मास्टर यही समझ रहे थे कि तीनों अपने गाड़ी का इंतजार कर रहे हैं। इसी दौरान स्टेशन से सद्भावना एक्सप्रेस गुजरनेवाली थी। जिसके आगे पलक झपकते ही ट्रेन के नीचे तीनों कूदकर अपनी जान दे दी। गाड़ी के गुजरने के बाद सभी लोगों की आंखें फटी की फटी रह गई ।क्योंकि तीनों के चेहरे शरीर के कई टुकड़ों में बिखर गए । जिसकी पहचान कर पाना किसी के लिए भी मुश्किल हो रहा था ।

कौन थे, कहां से आए थे पता नहीं 

मामला क्या था और व्यक्ति कहां के थे । किसी भी स्थानीय लोगों ने देखने के बाद नहीं बता पाए। गाड़ी की स्पीड इतनी तेज थी कि तीनों के शव कई टुकड़ों में बिखर गए लगभग 1 किलोमीटर के दरमियां शव के टुकड़े देखे गए। वही स्टेशन मास्टर ने बताया कि हमने तीनों परिवार को एक साथ एक ही स्थान पर काफी देर से बैठे हुए देखे रहे थे । तभी हमें महसूस हुआ यह कहीं यात्रा करने के लिए अपनी ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। लेकिन वह देखने से यही प्रतीत हो रहा था कि दोनों की शादी अभी कुछ इस साल पहले हुई होगी लगभग 25 से 37 वर्ष की उम्र पति और पत्नी की होगी वही बच्चे की उम्र 3 से 4 साल का होगा। 

स्टेशन मास्टर ने बताया कि रक्सौल से चलकर दिल्ली को जाने वाली सद्भावना एक्सप्रेस जब आ रही थी तो हमने हरी झंडी लेकर लाइन क्लियर कर रहे थे। जब ट्रेन पास की तब हमने यह तीनों परिवार को परियों पर बिखरे हुए टुकड़े में  देखकर अचंभित रह गया। 

स्थानीय लोगों ने बताया कि यह परिवार आत्महत्या किया है।कहीं ना कहीं इसके परिवार वालों में आपस में खटपट होती होगी जिसे कारण यह नया युगल जोड़ी और मासूम सा बच्चा आत्महत्या के शिकार हो गए हैं। फिलहाल सोनपुर अनुमंडल को सूचना दे दी गई है जिसके बाद सोनपुर अनुमंडल पुलिस पहुंचने के उपरांत शव को एकत्रित कर छपरा पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा

Find Us on Facebook

Trending News