पूर्व मंत्री और जेडीयू नेता पर लगा सनसनीखेज आरोप, पहले बनाया बंधक फिर किया पेट्रोल पंप पर कब्जा...

पूर्व मंत्री और जेडीयू नेता पर लगा सनसनीखेज आरोप, पहले बनाया बंधक फिर किया पेट्रोल पंप पर कब्जा...

जमुईः नीतीश सरकार के पूर्व मंत्री और जदयू के बड़े नेता दामोदर रावत और उनके पुत्र राजीव रावत पर गंभीर आरोप लगे हैं।एक पेट्रोल पंप के मालिक ने पंप हड़पने के प्रयास का परिवाद जमुई व्यवहार न्यायालय में दर्ज कराया है।

सीजेएम जमुई उमेश कुमार शर्मा की अदालत में दायर परिवाद में नीमारंग के जियाउल हक अंसारी ने आरोप लगाया है कि भारत पेट्रोलियम कंपनी नाम का पंप जमुई डीएम आवास के पास है।कंपनी से विवाद के कारण पेट्रोल पंप काफी दिनों से बंद पड़ा है।जिसको लेकर पटना हाईकोर्ट में याचिका दायर है।उक्त पेट्रोल पंप पर लगे ताले को पूर्व मंत्री दामोदर रावत और उनके बेटे ने कुछ गुंड़ों के साथ मिलकर तोड़ दिया है। जब वे वहां पहुंचे तो उल्टे उन्हे बंधक बना लिया गया और सादे कागज पर दस्तखत करा लिया गया।

परिवादी ने आरोप लगाया है कि उनके पेट्रोल पंप पर पूर्व मंत्री दामोदर रावत लंबे समय से नजर गडाए हुए थे। वे उसे काफी दिनो से हड़पने की कोशिश में थे। परिवादी ने कहा कि जान-माल के डर से वे मुकदमा दर्ज नहीं करा पाए। उन्होंने स्थानीय पुलिस पर भी केस दर्ज नहीं करने का आरोप लगाया है। परिवादी ने कहा कि पुलिस ने जब केस दर्ज नहीं किया तो वे न्याय के लिए कोर्ट की शरण में गए हैं।

हालांकि पूर्व मंत्री दामोदर रावत पर लगे आरोप के बारे में उनसे बात  की  गई तो उन्होंने कहा कि  पेट्रोल पंप कंपनी के अधिकारियों ने उन्हें 6 महीने के लिए उक्त पंप को हैंडओवर किया है।जिस  व्यक्ति को पेट्रोल पंप अलॉट था वह पंप चला नहीं रहा था।इसलिए कंपनी के अधिकारियों ने उन्हें 6 महीने के लिए एडहॉक पर दिया है।जहां तक बंधक बनाने और मारपीट करने का सवाल है तो इस तरह की कोई बात नहीं हुई है।  

जमुई से वृजमोहन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News