मोतिहारी में एक्साइज अफसर-माफिया करोड़ों की कर रहे अवैध कमाई! खुल्लम-खुल्ला बनाई जा रही शराब, कटघरे में उत्पाद अधीक्षक व अधिकारी

मोतिहारी में एक्साइज अफसर-माफिया करोड़ों की कर रहे अवैध कमाई! खुल्लम-खुल्ला बनाई जा रही शराब, कटघरे में उत्पाद अधीक्षक व अधिकारी

MOTIHARI:  शराबबंदी वाले राज्य में दूसरे राज्यों से अंग्रेजी शराब खुल्लम-खुल्ला मंगाई जा रही। वहीं देहाती क्षेत्रों में धड़ल्ले से चुलाई शराब बनाई जा रही है। मोतिहारी में उत्पाद पुलिस की शराब माफियाओं से मिलीभगत है। अधिकारियों और माफियाओं के गठजोड़ से हर महीने करोड़ों रू की अवैध कमाई की जा रही है।  शराब माफिया उत्पाद विभाग व पुलिस के अफसरों को पैसे देकर धंधा कर रहे। तभी तो दूसरे राज्यों से धड़ल्ले से शराब आ रही,चुलाई शराब का धंधा फल-फूल रहा फिर भी उत्पाद अधीक्षक से लेकर नीचे के कर्मी चादर तान कर सोये हैं। जिस काम के लिए एक्साइज डिपार्टमेंट के अधीक्षक-इंस्पेक्टर दरोगा को लगाया गया है उन्हें शराब रोकने में कोई दिलचस्पी नहीं। बताया जाता है कि मोतिहारी उत्पाद पुलिस कार्रवाई का सिर्फ दिखावा करती है। विभागीय सूत्र बताते हैं कि मोतिहारी के अधीक्षक उत्पाद अविनाश कुमार मुख्यालय से कई दिनों तक गायब भी रहते हैं।

मोतिहारी में चरम पर शराब का धंधा

बिहार में चुलाई शराब या जहरीली शराब से मौत की खबरे प्रायः हर महीने मिलते रहती है। हाल ही में वैशाली जिले में जहरीली शराब से कई लोगों की मौत हुई थी।गुरूवार को मुजफ्फरपुर में जहरीली शराब से तीन लोगों की मौत की खबर सामने आई है। अब मोतिहारी के बंजरिया इलाके का एक वीडियो वायरल हो रहा। वायरल वीडियो में बड़े स्तर पर चुलाई शराब बनाई जा रही है. वायरल वीडियो बंजरिया के तिरूआह इलाके का बताया जाता है। वीडियो में बड़े-बड़े ड्राम में शराब तैयार किये जा रहे हैं। रसोई गैस का सिलिंडर का इस्तेमाल कर शराब तैयार हो रहा।  उस इलाके के जानकार बताते हैं कि गंडक नदी के किनारे ऐसे सैकड़ों अवैध भट्ठी संचालित हैं। उत्पाद पुलिस वाले शराब फैक्ट्री वालों से सेट होते हैं। उत्पाद विभाग के अधिकारी और पुलिस की मिलीभगत से ही सैकड़ों भट्ठियां संचालित हो रहीं। 

शराब से अफसरों-माफियाओं की करोड़ों की हो रही कमाई

बंजरिया के अलावे सुगौली,चिरैया में सैकड़ों शराब की भट्ठियां संचालित हो रही। लेकिन उत्पाद विभाग को इससे कोई लेना-देना नहीं। जानकारों का कहना है कि उत्पाद विभाग के अधीक्षक अविनाश कुमार कभी-कभार ही फील्ड में निकलते हैं। वे तो मोतिहारी जिला मुख्यालय में भी काफी कम ही रहते हैं। उनकी अनुपस्थिति की वजह से जिले में शराब का अवैध कारोबार प्रचंड़ रूप से फैला है। मोतिहारी उत्पाद विभाग के अधिकारी-कर्मी तो अपनी कमाई में लगे हैं। स्थानीय पुलिस भी सवालों के घेरे में है।

मोतिहारी उत्पाद पुलिस को शराब रोकने से मतलब नहीं

मोतिहारी उत्पाद विभाग के अधिकारी-कर्मी तो अपनी कमाई में लगे हैं। तभी तो खुल्लम-खुल्ला दूसरे राज्यों से शराब की सप्लाई हो रही। एनएच पर शराब लदा ट्रक 50 किमी की फासला तय कर दूसरे जिले में जा रहा. फिर भी उत्पाद विभाग के अधिकारियों व पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगती। हालांकि मुजफ्फरपुर सीमा पर अवस्थित मोतिहारी जिला के मेहसी पुलिस को जब पता चला तो शराब लदे ट्रक UP21CN-5199 का पीछा किया गया। भागने के क्रम में ट्रक पानी भरे खेत में पलट गया और शराब की बोतलें और कार्टून पानी में तैरने लगी। मेहसी पुलिस ने ट्रक व शराब को जब्त कर लिया है। लेकिन इसी के साथ कई बड़े सवाल भी खड़े हो गये हैं। ट्रक  UP नंबर का है। पता चला है कि ट्रक UP से शराब लेकर मुजफ्फरपुर जा रहा था। गाड़ी गोपालगंज के रास्ते एनएच से डुमरियाघाट में मोतिहारी जिला में प्रवेश किया। वहां से वो ट्रक कोटवा,पीपराकोठी,पीपरा,चकिया थाना क्षेत्र होते हुए मेहसी थाना क्षेत्र की सीमा में घुसा। शराब लदा ट्रक सीधे मुजफ्फरपुर की सीमा में प्रवेश करता इसके पहले मेहसी पुलिस को इसकी जानकारी लगी। पुलिस ने पीछा किया तो ड्राइवर गाड़ी को एक गांव की तरफ लेकर भागा, लेकिन कुछ दूरी पर जाने के बाद ट्रक पानी भरे खेत में पलट गया। गाड़ी पलटने के बाद शराबबंदी वाले राज्य में शराब की बोतलें पानी में तैरने लगी। 

क्या कहते हैं उत्पाद विभाग के अधीक्षक

मोतिहारी में चरम पर शराब कारोबार को लेकर जब उत्पाद अधीक्षक अविनाश कुमार से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सूचना मिलने पर कार्रवाई की जाती है। बंजरिया में शराब बनाने की जानकारी लगी है वहां भी कार्रवाई की जायेगी। लेकिन अधीक्षक साहब शराब रोकने के लिए कितने सचेत हैं कि खुल्लम खुल्ला शराब बनाई जा रही, दूसरे राज्यों से शराब आ रहा फिर भी उन्हें जानकारी ही नहीं रह रही। बंजरिया में शराब बनाए जाने की जानकारी उन्हें मीडिया के माध्यम से मिल रही.

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News