BPSC 67th PT परीक्षा में सामान्य श्रेणी के लिए 105-110 के बीच कटऑफ की संभावना- डॉ कृष्णा सिंह

BPSC 67th PT परीक्षा में सामान्य श्रेणी के लिए 105-110 के बीच कटऑफ की संभावना- डॉ कृष्णा सिंह

पटना. बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा बिहार सिविल सेवा 67th प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया गया, जिसमें लाखों विद्यार्थी सम्मिलित हुए। इस पर चाणक्य आईएएस एकेडमी के डॉ. कृष्णा सिंह ने कहा कि प्रश्न पत्र को देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि direct प्रश्नों की प्रधानता है, तथ्यात्मक प्रश्न ज्यादा संख्या में दिखाई दे रहे हैं। History, Geography, Polity, Economics, Science, Mathematical Apptitude जैसे विषयों में Direct प्रश्न ज्यादा पूछे गए हैं, जो मोटे तौर पर +2 level की NCERT से संबंधित दिखाई दे रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि बिहार विशेष और करंट अफेयर्स के प्रश्न काफ़ी अच्छे पूछे गए हैं। कुल मिलाकर ऐसा प्रतीत होता है, जिन्होंने History, Bihar Special, Current Affairs, Science, Geography जैसे section को अच्छे से पढ़ा होगा वो काफी अच्छी स्थिति में रहेंगे। जहाँ तक प्रश्नों के विषयवार वितरण का संबंध है उसके तहत Polity से 10, Economics से 15, History से लगभग 35 प्रश्न पूछे गए हैं । इतिहास में सर्वाधिक प्रश्न आधुनिक भारत, भारत का स्वतंत्रता संघर्ष बिहार के योगदान से प्रश्न पूछे गए हैं। प्राचीन भारत के खण्ड से 5 प्रश्न और मध्यकालीन भारत से 5 प्रश्न तथ्यात्मक पूछे गए हैं। इसलिए उनके उत्तर में बहुत ज्यादा confussion की गुंजाइस बहुत कम है। Mathematical Ability से 10 प्रश्न पूछे गए है जो समान्य प्रश्न है। भारत के संविधान और राज्यव्यवस्था से 10 प्रश्न पूछे गए है जो समान्य प्रकृति के है।

उन्होंने कहा कि साइंस में काफी संख्या में प्रश्न पूछे गए लगभग 30 प्रश्न जिसमे सर्वाधिक बायोलॉजी और फिजिक्स से है। ये प्रश्न भी तथ्यात्मक तथा सीधे तौर पे ट्रेडिशनल है जिन विद्यार्थियों ने BPSC के पूर्व वर्ष के प्रश्नो को देखते हुए तथा NCERT को ध्यान देकर तैयारी की होगी उनको ज्यादा कठिनाई नहीं होगी। Geography से 13 प्रश्न 7 प्रश्न बिहार भूगोल से पूछे गए हैं, जो ज्यादा तर समान्य NCERT level के है। करंट अफेयर्स से काफी संख्या में 30 प्रश्न बनाए गए हैं जो की काफी अच्छे प्रश्न हैं तथा विगत वर्ष के प्रमुख घटनाओं, आयोजनों, खेल कूद, पत्र पत्रिका आदि से संबंधित है, बिहार से संबंधित लगभग 28-30 प्रश्न पूछे गए हैं, जो पूर्णतया तथ्यात्मक है।

उन्होंने कहा कि प्रश्नों के विश्लेषण से एक बात समझ आती है कि प्रश्न तथ्यात्मक हैं, ज्यादा कन्फ्यूजन की गुंजाइश नहीं थी हालांकि कुछ कुछ प्रश्नों में 5वें विकल्प ने विद्यारथियों को परेशान किया होगा, जो विद्यार्थी 105-110 के आस पास प्राप्तांक प्राप्त करेंगे संभावतः उनका मुख्य परीक्षा के लिए चयन हो जाना चाहिए। ज्ञातव्य हो कि चाणक्य आई ए एस एकेडमी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कराने वाली देश की सबसे बड़ी संस्था है जिसके देश के 16 राज्यों में 24 शाखाएं हैं। हाल ही में प्रकाशित 66th BPSC परीक्षा में इस संस्थान से 138 छात्रों का रिकॉर्ड तोड़ चयन हुआ था।


Find Us on Facebook

Trending News