फैक्ट चेक : महिलाएं अंडरगारमेंट पहनकर नहीं आएं चर्च, पादरी के आदेश, जानिये क्या है इसकी सच्चाई

फैक्ट चेक : महिलाएं अंडरगारमेंट पहनकर नहीं आएं चर्च, पादरी के आदेश, जानिये क्या है इसकी सच्चाई

Desk. इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो धड़ल्ले से वायरल हो रहा है. इसमें दावा किया जा रहा है कि केन्या के पादरी ने चर्च में आने वाली महिलाओं को आदेश दिया है कि वो किसी भी प्रकार का अंडरगारमेंट पहनकर नहीं आएं. अगर वह यह आदेश नहीं मानेंगी तो जीजस नाराज हो जाएंगे, जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा.

दरअसल, पड़ताल करने पर पता चला कि यह खबर तो सही है लेकिन ऐसा अभी नहीं हुआ है. बल्कि यह 7 साल पुरानी घटना है. गुगल पर इस खबर के कीवर्ड सर्च करने पर कई बेवसाट पर ये खबर लगी, लेकिन ये खबर 2014 में की बतया जा रही है. 

न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार पूरा मामला केन्या के नैरोबी स्थित एक चर्च का है. यहां के पादरी ने चर्च आने वाली महिलाओं के लिए एक आदेश जारी किया, जिसके अनुसार चर्च में महिलाएं के अंडर गारमेंट पहनकर नहीं आने को कहा गया. चर्च के फादर नजोही ने इसके पीछे यह तर्क दिया कि चर्च में जब महिलाएं अंडरगारमेंट पहनकर आती हैं तो इससे गॉड जीसस उनके शरीर में प्रवेश नहीं कर पाते जिससे उनका चर्च में आना अधूरा रह जाता है.

फादर रेवरेंड नजोही के अनुसार, महिलाएँ तभी चर्च में आने का पूरा लाभ उठा पाएंगी, जब वह अंडरवियर पहनकर आना बंद कर देंगी, क्योंकि यह गॉड जीजस से मिलने में बाधा उत्पन्न करता है. वहीं पादरी ने पुरुषों के अंडरगारमेंट्स पर कुछ नहीं कहा.

Find Us on Facebook

Trending News