अस्पताल में वृद्ध की मौत पर भड़के परिजन, जूनियर डॉक्टरों ने की जमकर पिटाई

अस्पताल में वृद्ध की मौत पर भड़के परिजन, जूनियर डॉक्टरों ने की जमकर पिटाई

GAYA : अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में आज सुबह एक वृद्ध मरीज को I.C.U. में सीनियर डॉक्टर द्वारा भर्ती करने की अनुशंसा की गई. इसके बावजूद जूनियर डॉक्टरों की ओर से उन्हें भर्ती नहीं किया गया. आईसीयू में भर्ती करने के बजाय वृद्ध को 10 से 12 इंजेक्शन एक साथ लगा दिया गया. जिससे मरीज़ की जान चली गयी. 

इस घटना से मरीज के परिजन आक्रोशित हो गए. उन्होंने चिकित्सकों को काफी भला-बुरा कहा. गुस्से में मरीज के पोते ने आपातकालीन द्वार पर हाथ मार दिया. जिससे उसका हाथ कट गया. मरीज के परिजनों के गुस्से में आने पर अस्पताल के जूनियर डॉक्टर भी आक्रोशित हो गए. उन्होंने मरीज के पुत्र पर हमला कर दिया. 

इस घटना की सूचना पुलिस को मिली. पुलिस अस्पताल पहुंची. लेकिन उनके सामने ही जूनियर डॉक्टर परिजनों की पिटाई करते रहे. इस दौरान मेडिकल सुपरिटेंडेंट ,डिप्टी सुपरिटेंडेंट और कई सीनियर डॉक्टर भी मौजूद थे. यहां तक कि जिस लड़के का हाथ शीशा से कट गया. उसे इलाज कराने के लिए आपरेशन थियेटर ले जाया गया. 

वहाँ भी घायल अवस्था में जूनियर डॉक्टरों ने उसकी पिटाई की. परिजनों का यह भी आरोप है कि अस्पताल के cctv फुटेज से भी छेड़छाड़ किया गया है. ताकि cctv फुटेज delete किया जा सके. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News